मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आरोग्य मेला का किया शुभारंभ

अबुलकैश डब्बल (ब्यूरो)

चन्दौली। प्रदेश के समस्त प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों पर प्रत्येक रविवार को आयोजित किये जाने वाले आरोग्य मेला का शुभारम्भ माननीय मुख्यमंत्री उत्तर प्रदेश योगी आदित्यनाथ द्वारा जनपद चन्दौली के नौगढ़ विकास खण्ड स्थित अमदहा प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र से किया गया। प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र अमदहा पर आयोजित कार्यक्रम के दौरान मुख्यमंत्री ने सम्बोधित करते हुये कहा कि सूबे के सभी लगभग 4200 से अधिक प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों पर आज से एक साथ जन आरोग्य मेले का शुभारम्भ किया जा रहा है। समाज के प्रत्येक तबके के लिए सुदूर ग्रामीण क्षेत्रों के गरीबों, अन्तिम पायदान पर बैठे व्यक्तियों को इस कार्यक्रम से स्वास्थ्य सम्बधी पूरा लाभ मिल सकेगा। उन्होनें कहा केन्द्र सरकार द्वारा पहले ही स्वास्थ्य के क्षेत्र में दुनियाॅ की सबसे बड़ी आयुष्मान भारत योजना संचालित की जा रही है, जिससे लगभग 6 करोड़ से अधिक परिवारों को लाभान्वित करने का कार्य किया जा रहा है। प्रदेश सरकार द्वारा भी इस दिशा में मुख्यमंत्री जन आरोग्य योजना द्वारा स्वास्थ्य के क्षेत्र में गरीबों को लाभान्वित किये जाने का कार्य किया जा रहा है। उन्होनें कहा कि आज से शुुभारम्भ जन आरोग्य मेले से प्रत्येक व्यक्ति को आरोग्यता की गारंटी उपलब्ध हो सकेगी। दो वर्ष तक प्रत्येक रविवार को प्रदेश के सभी स्वास्थ्य केन्द्रों पर योग्य चिकित्सकों की टीम द्वारा मरीजों को निशुल्क परामर्श एवं दवाईयाॅ उपलब्ध करायी जायेगी। प्रत्येक मेले में जन प्रतिनिधियों की भागीदारी सुनिश्चित की जायेगी। इस आरोग्य मेले से स्वास्थ्य के क्षेत्र में क्रान्तिकारी परिवर्तन आयेगा और जन सामान्य का आरोग्य का लाभ मिलेगा। उन्होनें कहा कि शीघ्र ही जनपद चन्दौली को एक मेडिकल कालेज की सौगात भी मिलेगी।

अमदहा प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र पर आयोजित कार्यक्रम के दौरान मुख्यमंत्री द्वारा इन्द्ररा देवी, प्रमिला, राजनाथ कुमारी मुन्नी को प्रतीकात्मक रूप से आयुष्मान योजना के अन्र्तगत गोल्डेन कार्ड प्रदान किये गये। विजय कुमार, कबुतरी, सुमन, सुभागी व छोटेलाल को आयुष्मान योजना के लाभार्थियों को सम्मानित किया गया। 06 माह के बच्चों आशमी व गुड्डू को मुख्यमंत्री द्वारा अन्नप्राशन कराया गया। गर्भवती महिलाओं श्रीमती मंशा, शिवकुमारी व सुनीता के गोद भराई का कार्यक्रम भी सम्पन्न हुआ। इस अवसर पर ग्राम्य सुरक्षा समिति के 40 सदस्यों को साइकिल, सीटी एवं टार्च भी प्रदान किया गया। मुख्यमंत्री द्वारा प्राथमिक स्वास्थ्य मेले में विभिन्न विभागों द्वारा लगाये गये स्टालों का भी अवलोकन किया गया।
तत्पश्चात ग्राम सभा देवखत स्थित महर्षी बाल्मिकी सेवा संस्थान के रजत जयंती समारोह कार्यक्रम के दौरान मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इस अवसर पर उपस्थित जन समुदाय को सम्बोधित करते हुये कहा कि महर्षि बाल्मिकी सनातन संत परम्परा के संत थे उन्होनें रामायण जैसे पवित्र ग्रन्थ की रचना की। रजत जयंती समारोह में बोलते हुये मुख्यमंत्री ने कहा यह संस्थान बच्चों में राष्ट्रीयता एवं संस्कार गढ़ने का कार्य कर रहा है। यह राष्ट्र के लिए बढ़ा ही पुनीत कार्य है। इस अवसर पर उन्होनें जन समुदाय को सम्बोधित करते हुये कहा कि क्षेत्र के गरीबों को सरकार आवास, शौचालय, पेंशनर्स आदि अनेक कल्याणकारी योजनाओं का शत प्रतिशत लाभ दिलाने के लिए कृत संकल्प है, इसके साथ ही उन्होनें क्षेत्र की जनता को शुद्ध पेयजल उपलब्ध कराने के लिए कार्ययोजना बनाये जाने व इस क्षेत्र की भौगोलिक स्थितियों को देखते हुये सिंचाई के लिए भी ठोस कार्ययोजना बनाये जाने की बात कही। उन्होनें कहा कि नौगढ़ में शीघ्र ही कौशल विकास एवं आईटीआई प्रशिक्षण केन्द्र भी खोला जायेगा। गरीब, आदिवासी एवं निराश्रित बालक एवं बालिकाओं के लिए छात्रावास भी बनाया जायेगा। इसके पूर्व मुख्यमंत्री द्वारा महर्षि बाल्मिकी सेवा संस्थान में महर्षि बाल्मिकी की प्रतिमा का अनावरण किया गया व आदिवासी बच्चों के साथ सहभोज भी किया।

इस अवसर पर राबर्ट्सगंज के सांसद पकौड़ी लाल कोल, विधायकगण सुशील सिंह, शारदा प्रसाद, साधना सिंह, भाजपा जिलाध्यक्ष अभिमन्यु सिंह, सहित अन्य जनप्रतिनिधिगण एवं प्रशासनिक अधिकारी तथा भारी संख्या में क्षेत्र की जनता उपस्थित थी।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!