हंसवाहिनी इण्टर कालेज कसयां का वार्षिकोत्सव हर्षोल्लास के साथ संपन्न

संतोष जायसवाल / हनीफ़ खान

(संवाददाता)

करमा। हंसवाहिनी इण्टर कालेज कसयां का वार्षिकोत्सव रविवार को छात्र-छात्राओं के मनोहारी सांस्कृतिक कार्यक्रमों के बीच मनाया गया। यहां मुख्य अतिथि के रूप में ज़िले के प्रभारी मंत्री बेसिक शिक्षा मंत्री सतीश द्विवेदी ने कहा कि युवा कल के नहीं आज के ही भविष्य हैं। युवाओं से राष्ट्र को अत्यधिक उम्मीदें हैं। उन्होंने कहा कि प्रतिभा उम्र का मोहताज नहीं होतीं। सरदार भगत सिंह, स्वामी विवेकानंद जी, आजाद जी जैसे महापुरुष अल्पायु में ही हमारे समक्ष ऐसा आदर्श प्रस्तुत कर गये कि आज भी हम उन्हें श्रद्धापूर्वक स्मरण करते हैं। हम आज के युवाओं में ऐसा ही भविष्य देखते हैं। पुलिस अधीक्षक आशीष श्रीवास्तव ने कहा कि ग्रामीण अंचलों में अब प्रतिभायें सुविधा का मोहताज नहीं हैं। अब कठिन परीश्रम के बल पर ग्रामीण अंचलों से भी बच्चे हरेक क्षेत्र में श्रेष्ठतम स्थान प्राप्त कर रहे हैं। समारोह को घोरावल विधायक डॉ 0 अनिल मौर्या, सदर विधायक भुपेश चौबे, संत कीनाराम महाविद्यालय के प्राचार्य डॉ0 गोपाल सिंह ने भी संबोधित किया। प्रभारी मंत्री ने गत वर्ष की बोर्ड परीक्षा में श्रेष्ठ अंकों से विद्यालय से उत्तीर्ण छात्र-छात्राओं को पुरस्कृत किया। इस दौरान बच्चों ने स्वाधीनता संग्राम के नायकों, सीमा पर देश के दुश्मनों से हमारी रक्षा करने वाले सैनिकों के जीवन पर आधारित सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किया। कार्यक्रम का संचालन प्रधानाचार्य उमाकांत मिश्रा एवं अरुण पति त्रिपाठी ने किया। अध्यक्षता पारसनाथ सिंह ने किया। इस मौके पर भाजपा जिलाध्यक्ष अजीत चौबे, धर्मवीर तिवारी, गोविंद यादव, आशुतोष कुमार, धनंजय पाठक, राजेश मिश्रा, सुशील चौबे, संगीता श्रीवास्तव, डॉ प्रसन्न सिंह पटेल, दिलीप कुमार तिवारी, राजेश चौबे, उमाकांत शुक्ल, गिरिजेश चौबे, सतीश सिंह, राजेंद्र प्रसाद पांडेय आदि मौजूद रहे।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!