अपडेट:बाघ ने फिर एक किसान को बनाया निवाला

दीनदयाल शास्त्री ब्यूरो

पीलीभीत ।गजरौला थाना क्षेत्र में एक किसान को बाघ द्वारा अपना निवाला बनाया गया है।
ग्रामीणों ने घटना स्थल पर पहुँचकर देखा और क्षेत्र के गॉंव बैजूनागर के फूलचंद 60 वर्षीय किसान के रूप में शिनाख्त की गई है।
वही लोगों द्वारा बताया गया है कि किसान फूलचंद कल दिन में 11 बजे के समय घर से खाना खाकर खेत पर गेहूँ की फसल की रखवाली करने के लिए गया था।
जब देर रात तक घर वापस नहीं पहुंचा तो परिजनों ने उसकी तलाश कि लेकिन रात में खेत पर किसान का कोई पता नहीं लग सका।
फूलचंद की कोई लोकेशन न मिलने के कारण परिजन को किसी अनहोनी की आशंका से परेशान होने लगे ।
क्योंकि क्षेत्र में बाघिन और उसके शावक पिछले कुछ समय से अक्सर देखे जाने की बात सामने आ रही है।
परिजनों ने सूचना वन विभाग के गढ़ा कोठी ऑफिस पर मौजूद वनकर्मियों को दी गई।

वही बताया जा रहा है कि आज यानि शनिवार को सुबह वन वाचर राजाराम और उमाशंकर गायब किसान फूल चंद के परिजनों के पास पहुंचे और किसान की तलाश के लिए खेत की तरफ चलने को कहा। दरअसल फूलचंद का खेत नदी किनारे माला रेंज जंगल से कुछ ही दूरी पर है।
इस दौरान फूलचंद के परिजनों के साथ 100 से ज्यादा ग्रामीण भी किसान को खोजने साथ साथ चल दिए। खेत से कुछ ही दूरी पर जंगल की तरफ किसान की एक चप्पल मिली जिससे कुछ ही दूरी पर एक और चप्पल व खून पड़ा हुआ मिला। इसके बाद ग्रामीण थोड़ा आगे बढ़े तो परिजनों की चीख निकल गई क्योंकि आगे खून से लथपथ एक मानव पैर पड़ा हुआ था। लेकिन इससे भी भयावय दृश्य ग्रामीणों ने कुछ आगे ही बढ़ते देखा। ग्रामीणों के मुताबिक बाघिन और शावक किसान के शव को घास में बैठकर खा रहे थे।
वन वाचर और ग्रामीणों ने शोर मचाकर बाघिन और शावकों को भगाया और क्षत विक्षत शव को कब्जे में लिया। सूचना पर एसडीएम कलीनगर हरिओम शर्मा, माला रेंज के रेंजर रामदीन व थाना गजरौला इंचार्ज नरेश चंद भी मौके पर पहुँच गए ।
शव को कब्जे में लेकर पोस्ट मार्टम के लिए भिजवाया गया है।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!