नगवा में हुआ आदिवासी महासम्मेलन

राजा (संवाददाता)

-गुमनाम स्वतंत्रता सेनानी के यादों मे लगा मेला

अमवार। दुद्धी ब्लॉक के सांसद आदर्श ग्राम नगवा में 30 जनवरी को आदिवासी स्वतन्त्रता सेनानियो के शहीदों की याद में आदिवासियों ने आदिवासी महासम्मेलन किया व् मेले का आयोजन किया।कार्यक्रम के दौरान स्वतंत्रता आंदोलन के दौरान नगवा गांव से आदिवासी स्वतन्त्रता सेनानियो ने अपनी जान जोखिम में डाल गांव की सुरक्षा के लिए अंग्रेजो से मोर्चा लिया और गांव के चारो ओर पहरेदारी कर ग्रामीणों को सुरक्षित रखने का काम किया नगवा के गुमनाम स्वतन्त्रता सेनानी बोधा पनिका,शनिचर खरवार,सुखलाल खरवार,पूरन खरवार,जगरनाथ राजन चौधरी खरवार,नन्दलाल,चिंतामणि खरवार सामिल हुए थे।

उनकी स्मृति पर फूल माला चढ़ाने के उपरान्त मशाल जलाकर कार्यक्रम शुरू किया ।कार्यक्रम के मुख्यातिथि क्षेत्रीय विधायक हरिराम चेरो ने कहा कि अब तक आदिवासियों के स्वतन्त्रता सेनानियो को शासन द्वारा गुम नाम रखने पर नाराजगी जताई और कहा जब तक हमारे पूर्वजो को स्वतन्त्रता सेनानी का दर्जा नही मिलेगा तब तक हम अनवरत शासन प्रशासन तक अपनी मांगो को पहुँचाते रहेंगे।

महेशानन्द ने सभा को संबोधित करते हुए आदिवासियों को पढ़ाई पर जोर डाला कहा कि जब तक पढोगे नही तब तक बढ़ोगे नही मेले में गाव के ग्रामीणों ने खूब खरीददारी की और मेले का आनंद लिया।बतादे की 2002 से अनवरत यहाँ गुमनाम सुराजियो की याद में शहिद मेले का आयोजन होता रहा है।इस मौके पर क्षेत्रीय विधायक हरिराम चेरो महेशानंद,राजेश यादव, हरिकिशन, ग्राम प्रधान नगवा,रोशन यादव,रामेश्वर राय,भीम सिंह,राम प्यारे खरवार,राजेन्द्र गहवा,धर्म जीत खरवार उपस्थित रहे।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!