शरीर के सभी अंग ठीक से करें काम,बहुत जरूरी हैं हीमोग्लोबिन ,जानें इसे बढ़ाने के घरेलू उपाय


शरीर के सभी अंग ठीक से काम करें, इसके लिए हीमोग्लोबिन बहुत जरूरी है, लेकिन जब प्रोटीन, विटामिन और खनिज नहीं मिलते हैं तो हीमोग्लोबिन की कमी हो जाती है। बचपन से यह स्थिति रहे तो बच्चा कुपोषण का शिकार हो जाता है। वयस्कों में बीमारियों से लड़ने की ताकत घट जाती है। गर्भवती महिलाओं में यह स्थिति और भी गंभीर हो सकती है। www.myupchar.com से जुड़े एम्स के डॉ. नबी वली के अनुसार, शरीर में जब हीमोग्लोबिन की कमी होती है जो इसका असर शरीर में मौजूद खून में ऑक्सीजन की मात्रा पर पड़ता है। खून में ऑक्सीजन की कमी से कमजोरी आती है। मरीज कहीं भी बेहोश हो सकता है। सामान्य काम करने में उसकी सांस फूल जाती है। अधिकांश मामलों में संतुलित आहार खाने से हीमोग्लोबिन बढ़ जाता है, लेकिन यदि ऐसा नहीं हो रहा है तो इलाज जरूरी हो जाता है। 18 साल से ज्यादा की उम्र में हीमोग्लोबिन की मात्रा 13.6 से 17.7 होना चाहिए।

हीमोग्लोबिन की कमी से होने वाले रोग:
शरीर में दर्द रहना, खासतौर पर सिर और सीने में
आयरन की कमी से एनीमिया यानी खून की कमी
किडनी और लिवर की बीमारियां
हार्ट से जुड़े रोग
थकान, मांसपेशियों की कमजोरी
त्वचा का रंग बदलना और कमजोर होना, घाव जल्दी नहीं भरना
पीरियड्स के दौरान ज्यादा दर्द
ठंड ज्यादा लगना, तलवे और हथेलियां ठंडे पड़ना

हीमोग्लोबिन बढ़ाने के लिए इन आहार का करें सेवन
www.myupchar.com से जुड़े डॉ. लक्ष्मीदत्ता शुक्ला के अनुसार, हीमोग्लोबिन बढ़ाने का सबसे कारगर तरीका है तरबूज और पालक का सेवन। सर्दी के दिनों में पालक और हरी पत्तेदार सब्जियां तत्काल फायदा पहुंचाती हैं। पालक आयरन से भरपूर होता है। वहीं तरबूज में विटामिन सी होता है जो आयरन को पचाने का काम करता है।

अनार, चुकंदर, केला, गाजर, अमरूद, सेब, अंगूर, संतरा, टमाटर का किसी भी रूप में सेवन हीमोग्लोबिन बढ़ाता है। हरी सब्जियों को कच्चा खाया जाए या सलाद के रूप में इस्तेमाल किया जाए तो तेजी से फायदा होता है। सर्दियों में गुड़ सेहत के लिए बहुत फायदेमंद है। इसकी तासीर गर्म होती है। गुड़ की चाय पी जा सकती है। साथ ही खाने के बाद कुछ मीठा खाने का मन करे तो गुड़ खाया जा सकता है। ध्यान रहे, गुड़ का ज्यादा सेवन पेट खराब कर सकता है।

सूखे मेवे के सेवन से भी हीमोग्लोबिन बढ़ता है। खजूर, बादाम और किशमिश खाएं। इनमें पर्याप्त मात्रा में आयरन होता है। ठंड के दिनों में बादाम वाला दूध पिएं। किशमिश को रात को भीगो दें और सुबह खाली पेट सेवन करें।

जो लोग मांसाहार का सेवन करते हैं, उनके लिए अंडे, चिकन, मछली सबसे अच्छे उपाय हैं। ये खाद्य पदार्थ भी आयरन और विटामिन बी से भरपूर होते हैं। इनके अलावा सोयाबिन, राजमा, ब्राउन राइस, साबुत अनाज, डॉर्क चॉकलेट भी हीमोग्लोबिन बढ़ाते हैं।

हीमोग्लोबिन बढ़ाने में खानपान के साथ ही योग भी फायदेमंद है। नियमित रूप से कपालभाती, नाड़ी शोधन, सर्वांगासन, उत्तानपाद आसन करें। योग के अलावा पैदल चलना, जॉगिंग या रनिंग करना, स्वीमिंग करना भी हीमोग्लोबिन बढ़ाता है। यदि हीमोग्लोबिन की कमी के लक्षण नजर आ रहे हैं तो चाय, कॉफी और कोल्ड ड्रिंक्स के साथ ही शराब का सेवन भी बंद कर दें।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!