पीएम मोदी ने सुनाई मन की बात, खेलो इंडिया की शानदारी मेजबानी के लिए असम के लोगों को दी बधाई

गणतंत्र दिवस के अवसर पर रविवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मन की बात प्रोग्राम के जरिए देश को संबोधित किया । उन्होंने कहा, ‘मन की बात के माध्यम से मैं असम के लोगों को खेलो इंडिया की शानदारी मेजबानी के लिए बधाई देता हूं । 22 जनवरी को गुवाहाटी में तीसरे खेलो इंडिया गेम्स का समापन हुआ है।’

उन्होंने कहा कि खेलो इंडिया गेम्स में कई राज्यों के लगभग 6 हजार खिलाड़ियों ने हिस्सा लिया। इसमें करीब 80 रिकॉर्ड टूटे, जिसमें से 56 रिकॉर्ड तोड़ने का काम हमारी बेटियों ने किया है। पीएम मोदी ने कहा कि अगले महीने 22 फरवरी से 1 मार्च तक ओडिशा के कटक और भुवनेश्वर में पहले खेलो इंडिया यूनिवर्सिटी गेम्स आयोजित हो रहे हैं । इसमें भागीदारी के लिए 3 हजारे से ज्यादा खिलाड़ी क्वालिफाई कर चुके हैं ।

मन की बात में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा ‘जब मैं डेविड बेकहम का नाम लूंगा तब आप कहेंगे वो इंटरनेशनल फुटबॉलर हैं। लेकिन अब अपने पास भी डेविड बेकहम है और उसने गुवाहाटी के यूथ गेम्स में गोल्ड मेडल जीता है । डेविड ने साइकिल स्पर्धा के स्प्रिंट इवेंट (200 मीटर) में ये मेडल हासिल किया था।

पीएम ने कहा कि हाल में मैं अंडमान-निकोबार गया था । वहां मुझे पता चला कि बचपन में ही डेविड के माता-पिता चल बसे थे। डेविड के चाचा उन्हें फुटबॉलर बनाना चाहते थे, इसीलिए नाम भी डेविड रखा था । हालांकि डेविड का मन साइकिलिंग में रम गया था । पीएम ने कहा कि डेविड का चयन खेलो इंडिया में हुआ और उन्होंने साइकिलिंग स्पर्धा में एक नया कीर्तिमान रच डाला ।

पीएम ने अपने संबोधन के दौरान गुवाहाटी की पूर्णिमा मंडल का जिक्र किया । पूर्णिमा एक सफाई कर्मी हैं । पीएम ने कहा कि पूर्णिमा की बेटी ने जहां फुटबॉल में दम दिखाया, वहीं उनके बेटे सुजीत ने खो-खो में तो दूसरे बेटे प्रदीप ने हॉकी में असम का प्रतिनिधित्व किया । ये हमारे लिए गर्व की बात है


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!