अपहरणकर्ता की जल्द गिरफ्तारी की मांग को लेकर सदर ने की अपर पुलिस अधीक्षक से मुलाकात

रमेश यादव (संवाददाता)

दुद्धी।कस्बे के रामनगर मुहल्ले की निवासिनी एक अवयस्क बालिका को बहला-फुसलाकर भगा ले जाने वाले युवक की किसी भी कीमत पर गिरफ्तारी होनी चाहिए। ऐसे अवांछनीय तत्वों की कारगुजारियों के चलते दुद्धी की कौमी एकता और आपसी सौहार्द कत्तई समाप्त नहीं होने दिया जाएगा। उक्त बातें इस्लाहुल मुस्लेमीन कमेटी जामा मस्जिद के सदर मोहम्मद शमीम अंसारी ने एएसपी अभय नाथ त्रिपाठी से कोतवाली में मुलाकात के दौरान कही। उन्होंने कहा कि ऐसे लड़के जो किसी भी मजहब से ताल्लुक रखते हों, जिन्हें न तो समाज और न ही परिवार की फिक्र रहती है। खुद को हीरो समझने वाले ऐसे लड़के समाज की भोली-भाली लड़कियों को फंसा कर माहौल खराब करते हैं। सदर ने प्रशासन से अपहरणकर्ता युवक की गिरफ्तारी की पुरजोर मांग की। कहा कि युवक की इस क्रियाकलाप से हिन्दू-मुस्लिम रिश्तों में कत्तई तल्खी नहीं आनी चाहिए। एक युवक से समाज का आंकलन या पूरे समाज को दोषी ठहराया जाना उचित नही होगा। अपहरणकर्ता की गिरफ्तारी के संदेह में ड्राइवर, होटल वाला, युवक के दोस्तों को पुलिस द्वारा उठाया जाना या नगर की हिन्दू-मुस्लिम लोगों की दुकान बंद करा उनका आर्थिक नुकसान पहुंचाना जायज नहीं। एक युवक की नासमझी का कोपभाजन हर तबका और हर वर्ग को होना पड़ रहा है,जो गलत है। दुद्धी के हिन्दू-मुस्लिम एक दूसरे के पूरक हैं। सदर ने अपहरण के साजिशकर्ताओं को भी पुलिस से जेल भेजे जाने की मजम्मत की है।
एएसपी श्री त्रिपाठी ने आश्वस्त करते हुए कहा कि पुलिस गंभीरता से अपना काम कर रही है और कामयाबी के बिलकुल करीब है।घटना से जुड़े अपहरणकर्ता, साजिशकर्ता, प्रश्रयदाता कोई भी दोषी बख्शा नही जायेगा। उन्होंने लोगों से शांति व्यवस्था बनाये रखने की अपील की है, ताकि पुलिस एकाग्र होकर नाबालिग को बरामद करते हुए, आरोपी को गिरफ्त में ले सके।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!