पगडंडियों के सहारे आज भी घर जाते हैं ग्रामीण

अबुलकैश डब्बल (ब्यूरो)
* पचासों परिवार के लिए नही है रास्ता
* ग्रामीणों ने किया प्रदर्शन

चंदौली । धानापुर हाई टेक हो रहे गांव और शहर में सरकार हर घर और समाज के अंतिम व्यक्ति तक पहुचने का प्रयास कर रही है। ऐसे में नरौली के पचासों परिवार को अपने घर तक पहुचने का रास्ता तक नही है। जिससे सरकार की हर वह योजना बेमानी साबित हो रही है जो गांव के विकास के लिए चलाई जा रही है। आक्रोशित ग्रामीणों ने बुद्धवार को नरौली में प्रदर्शन किया और कहा की विगत कई सालों से सड़क बनाने की मांग शासन प्रशासन सहित जनप्रतिनिधियों से किया जा रहा है लेकिन कोई सुनने वाला नही है। चुनावो में आस तो बंधाया जाता है लेकिन उसे पूरा नही किया जाता है। ग्रामीणों का कहना है कि दूसरे के खेतों में पगडंडियों के सहारे हम अपने घर तक पहुंचते हैं वह भी कभी कभी किसानों द्वारा आने जाने से रोक दिया जाता है। सबसे ज्यादा परेशानी मरीजो को ले जाने, ले आने और शादियों में उठानी पड़ती है। कुछ साल पूर्व कुछ दूरी पर एक पुलिया का निर्माण कराया गया लेकिन वह आज तक पूर्ण नही हो पाया और बाढ़ के दौरान वह भी डूब जाता है। ग्रामीण तेतरा देवी, मैमुननिशा, बेला देवी, शारदा देवी, गुडिया देवी, रिता देवी, दुखंती, शालमा, अनवरी निशा, सर्फुद्दीन, उधव निषाद, लालचन, लछमन, गिरधारी, मुनील, धीरज, शमशेर अली, उमा निषाद, मुन्ना, रामा, रामसकल, सुकुरुल्ला नाई, गुलाम रसूल, मुकेश, राकेश, सहादुर बहादुर, धनंजैय, दिनेश निषाद, महेश निषाद, प्रकाश निषाद, बैजनाथ निषाद, मिरचंद्र, राहुल, समीउल्लह ने जिला प्रशासन सहित जनप्रतिनिधियों से ज्वलंत समस्या को ध्यान में रखते हुए मार्ग निर्माण की मांग की है।

क्या कहते हैं अधिकारी
खंड विकास अधिकारी सुशील मिश्रा ने कहा कि इसकी सूचना नही है अगर समस्या ऐसी है तो जल्द ही ग्रामीणों के लिए रास्ता बनाया जाएगा।
क्या कहती हैं ग्रामप्रधान
ग्राम प्रधान रेखा यादव ने बताया कि रास्ता के लिए लगभग 22 फुट का नाला है जिसके पास बंजर जमीन भी है जिसे चिन्हित कर जल्द ही सड़क निर्माण कराया जाएगा।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!