वाराणसी आयुक्त ने गोवंश आश्रय स्थल का किया निरीक्षण

अबुलकैश डब्बल ब्यूरो

चन्दौली। आयुक्त वाराणसी मंडल वाराणसी एवं जनपद के नोडल अधिकारी दीपक अग्रवाल ने निर्माणाधीन गोवंश आश्रय स्थल कटोरी का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान आश्रय स्थल एरिया को कटीले तार से घेरने के साथ चारों तरफ हरा पौधा लगाने के निर्देश दिए। साथ ही पशुओं के गोबर का उपयोग प्लान बनाकर जिलाधिकारी के यहां प्रस्तुत किया जाए। श्री अग्रवाल ने पशु चिकित्साधिकारी को निर्देशित करते हुए कहा कि पशुओं को चारा-पानी की दिक्कत किसी प्रकार की न हो इसके लिए 15 दिनों के अंतराल में बैठक कर सभी जानकारी लिया जाए। निरीक्षण के तत्पश्चात जिला सहायक निबंधक सहकारिता विभाग का निरीक्षण किए। इस दौरान कर्मचारियों की उपस्थिति रजिस्टर सर्विस बुक सहित अन्य फाइलों की जांच कर सुव्यवस्थित ढंग से रखने के निर्देश दिए। साथ ही आईजीआरएस पोर्टल पर प्राप्त शिकायतों का निस्तारण होने पर शिकायतकर्ता से फोन से वार्ता कर शिकायतकर्ता से फीडबैक की संतुष्टि ली इसके साथ ऑनलाइन, जिलाधिकारी संदर्भ सहित अन्य संदर्भों का ससमय गुणवत्तापूर्ण निस्तारण करने के निर्देश दिए।

श्री अग्रवाल द्वारा जिला समाज कल्याण कार्यालय का निरीक्षण किया गया। निरीक्षण के दौरान वृद्धा पेंशन, परिवारिक लाभ, छात्रवृत्ति योजना, मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना सहित अन्य विभागीय योजनाओं की जानकारी विभिन्न पटल से लिए। साथ ही निर्देशित करते हुए कहा कि ब्लॉक स्तर से आवेदन की जांच समय अवधि में कराकर मुख्यालय स्तर से पीएफएमएस को डाटा भेज दिया जाए। विलंब किया गया तो कार्यवाही सुनिश्चित होगी। श्री अग्रवाल ने कहा अनु0 जाति/ जनजाति उत्पीड़न का कोई प्रकरण लंबित न रहे, कर्मचारियों को हिदायत देते हुए कहा कि कार्यशैली में सुधार लाएं लाभार्थियों को परेशान न होना पड़े। साथ ही आईजीआरएस पर प्राप्त शिकायतों को शिकायतकर्ता से फोन कर अवगत भी कराएं।
श्री अग्रवाल द्वारा निर्माणाधीन सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र मेढ़ी का निरीक्षण किया गया। चिकित्साधिकारी कक्ष, ड्रेसिंग रूम, वार्ड, सैया कक्ष सहित अन्य कक्षों का भ्रमण कर गुणवत्ता की जानकारी ली। निरीक्षण के दौरान दीवारों में सीलन, दरार रहने पर ठीक कराने के निर्देश दिए। खिड़कियों की सेटिंग सही करने के साथ टाइल्स की फिक्सिंग सही ढंग से करने के निर्देश दिए। मंडलायुक्त ने जिलाधिकारी श्री नवनीत सिंह चहल को स्वास्थ्य केंद्र मेढ़ी में निर्मित एवं निर्माणाधीन भवन की जांच इंजीनियरों की टेक्निकल कमेटी बनाकर कराए जाने का निर्देश दिया। कहा कि कमी पाए जाने पर संबंधित इंजीनियर के खिलाफ कार्यवाही के साथ रिकवरी भी किया जाएगा। निरीक्षण के दौरान जिलाधिकारी नवनीत सिंह चहल, उप जिलाधिकारी सदर हीरालाल, सहित विभागीय अधिकारी उपस्थित रहे।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!