सीएए को मिला आदिवासियों का समर्थन, हजारों की संख्या में जत्था वाराणसी रवाना

आनन्द कुमार चौबे (संवाददाता)

सोनभद्र । वाराणसी के सम्पूर्णानंद संस्कृत विश्विद्यालय में बीजेपी द्वारा नागरिक संशोधन अधिनियम-2019 के समर्थन में आयोजित जनसभा में हिस्सा लेने बड़ी संख्या में आदिवासी गाजे-बाजे के साथ नाचते-गाते सोनभद्र से रवाना हुए। गाजे-बाजे के साथ थिरकते ये आदिवासी नागरिकता संशोधन अधिनियम का समर्थन करते देखे गए। आज सुबह आदिवासियों ने एक जुलूस निकालकर लोगों को संदेश दिया कि वे सीएए को लेकर सरकार के साथ हैं। इस दौरान ओबरा से आदिवासी नेता व विधायक संजीव गोड़ के साथ बड़ी संख्या में बीजेपी नेता भी मौजूद रहे ।

ओबरा विधायक संजीव गोंड़ ने कहा कि “यह कानून किसी जाति-धर्म के खिलाफ नहीं है। इस कानून से किसी को कोई दिक्कत नहीं होगा”

वहीं बीजेपी नेता व रेलवे बोर्ड के सदस्य बृजेश पांडेय का कहना है कि “जब कम पढ़े लिए आदिवासियों को यह कानून समझ में आ गया तो पढे लिखे बुद्धजीवियों को खुद समझ जाना चाहिए।”

जबकि जिला मुख्यालय पर भाजपा जिलाध्यक्ष अजीत चौबे के नेतृत्व में आज वाराणसी के सम्पूर्णानंद संस्कृत विश्विद्यालय में बीजेपी द्वारा नागरिक संशोधन अधिनियम-2019 के समर्थन में आयोजित जनसभा में हिस्सा लेने के लिए हजारों कार्यकर्ता रवाना हुए।
म्योरपुर, शक्तिनगर, अनपरा, बभनी, कोन, घोरावल, नगवाँ, चतरा, चुर्क, चोपन, जुगैल समेत सभी मण्डलों के पदाधिकारी भारी समर्थकों के साथ हिन्दुआरी तिराहे पर पहुँचे। आज सुबह ही जिलाध्यक्ष अजीत चौबे व सदर विधायक भूपेश चौबे, काशी प्रान्त के उपाध्यक्ष रमेश मिश्र, पूर्व जिलाध्यक्ष अशोक मिश्र व ओम प्रकाश दुबे समर्थकों को वाराणसी रैली के लिए रवाना करने में लगे हुए थे।

इस मौके पर सीएए के समर्थन में कार्यकर्ताओं ने जमकर नारेबाजी भी की। रैली में सम्मिलित होने के लिए मुख्य रूप से राम लखन सिंह, इं0 रमेश पटेल, आशुतोष चतुर्वेदी, अमरेश पटेल, गोविंद यादव, अजित रावत, अनूप तिवारी, कमलेश चौबे, विशाल पांडेय, विनय श्रीवास्तव, उमेश पटेल, शंभू नारायण सिंह, ओमप्रकाश दूबे सहित हजारों कार्यकर्ता रवाना हुए।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!