जंगल की हजारों हेक्टेअर भूमि पर दबंगों का कब्जा, जिम्मेदार मौन

संजीव कुमार पांडेय (संवाददाता)

राजगढ़ । जिले की हजारों एकड़ वन भूमि पर भूमाफियाओं की काली नजर है। यहीं कारण है कि धीरे-धीरे वन भूमि पर कब्जा हो रहा है। वर्तमान में अधिकतर क्षेत्रों में अतिक्रमण कर निर्माण का धंधा जोरों पर है। जिम्मेदार भी मुंह मोड़े बैठे हुए हैं। वन विभाग ने इसके लिए एकाध बार प्रयास भी किया लेकिन अतिक्रमणकारी इतने मनबढ़ हैं कि वह विभागीय अधिकारियों पर भी हमलावर हो गए।

कई बार तो अधिकारियों को भी जान बचाकर भागना पड़ा। सबसे अधिक वन भूमि पर कब्जा अथवा अतिक्रमण मड़िहान, हलिया व ड्रमंडगंज में है। इसके अतिरिक्त छानबे, विंध्याचल व राजगढ़ क्षेत्र में भी इस प्रकार के अतिक्रमण प्राय: होते रहते हैं। चिंता की बात यह है कि एक बार जो अतिक्रमण हो गया वह स्थायी हो जाता है। नतीजा यह हुआ कि अब जिले का वन क्षेत्र धीरे- धीरे सिकुड़ रहा है और आबादी बढ़ती जा रहा है।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!