दहेज हत्या के प्रकरण में आजीवन कारावास के साथ अर्थदंड की सजा

राजेश गुप्ता (संवाददाता)

पीलीभीत । जनपदीय मॉनिटरिंग सेल की प्रभावी पैरवी के बाद थाना पूरनपुर अंतर्गत दहेज हत्या के एक अभियोग के मामले में 2 अभियुक्तों को आजीवन कारावास व प्रत्येक को सात-सात हजार रुपए के अर्थदंड की सजा सुनाई गई है ।

12 सितम्बर 2014 को थाना पूरनपुर पर वादी हरिपाल वर्मा पुत्र बाबूराम वर्मा निवासी ग्राम धौरारे थाना नवाबगंज जनपद बरेली की तहरीर के आधार पर थाना पूरनपुर पर मुकदमा अपराध संख्या 1131/14 धारा 498a, 304b आईपीसी व 3/4 दहेज एक्ट बनाम पति सुनील वर्मा पुत्र रामचन्द्र एवं सास ईश्वरवती पत्नी रामचन्द्र निवासीगण ग्राम सिमरिया थाना पूरनपुर जनपद पीलीभीत सहित 5 व्यक्तियों के विरुद्ध पंजीकृत हुआ। घटनाक्रम के अनुसार अभियुक्तगणों द्वारा वादी की बहन शकुंतला देवी पत्नी सुनील वर्मा निवासी ग्राम सिमरिया थाना पूरनपुर से दहेज की मांग करना तथा दहेज न लाने पर उसके साथ मारपीट तथा श्वासावरोध कर हत्या कर दी गई। गहन विवेचना के दौरान संकलित साक्ष्य एवं सबूत के साथ अभियुक्त पति सुनील वर्मा एवं सास ईश्वरवती का चालान माननीय न्यायालय कर आरोप पत्र संख्या 21/14 अंतर्गत धारा 498a, 304b आईपीसी व 3/4 दहेज एक्ट 28 अक्टूबर 2014 को प्रेषित किया गया। माननीय न्यायालय अपर सत्र न्यायधीश 8 पीलीभीत में विशेष सत्र परीक्षण संख्या 460/14 पर विचारण की कार्यवाही संपन्न हुई । विचारण के दौरान पुलिस द्वारा माननीय न्यायालय में उपलब्ध कराए गए साक्ष्य एवं सबूत के आधार पर माननीय न्यायालय द्वारा दिनांक 03 जनवरी 20 को दोष सिद्ध अभियुक्तगण सुनील वर्मा पुत्र रामचन्द्र, ईश्वरवती पत्नी रामचन्द्र निवासीगण ग्राम सिमरिया थाना पूरनपुर जनपद पीलीभीत को धारा 302/34 ipc के तहत आजीवन कारावास व प्रत्येक को सात-सात हजार रुपए के अर्थदंड की सजा से दंडित किया गया है।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!