जिलाधिकारी के निर्देश के बाद भी नहीं सुधि लिए अधिकारी, पूर्व अध्यक्ष ने बांटा कम्बल

आनन्द कुमार चौबे/अंशु खत्री (संवाददाता)

सोनभद्र । व्यस्तम कार्यक्रम के बीच सीएम योगी ने भीषण ठंड व ओले से हुई क्षति के आंकलन करने के लिए कहा है । वहीं जिले में अधिकारी ठंड से जूझ रहे लोगों की सुधि लेने वाला कोई नहीं । मामला चुर्क नगर पंचायत क्षेत्र का है, जहाँ अधिकारी डीएम का आदेश तक नहीं मान रहे ।

बताते चलें कि बीते सोमवार को सोनभद्र के जिलाधिकारी एस0 राजलिंगम ने जनपद सोनभद्र के जिला मुख्यालय स्थित रैन बसेरा का निरीक्षण कर वहाँ की व्यवस्था को परखा और संतुष्ट दिखे। वहीं उन्हें इसका भी अंदेशा था कि दूरस्थ क्षेत्रों में कमियाँ हो सकती हैं इसके लिए उन्होंने किसी भी व्यक्ति के खुले में सोने पर नगर पालिका और नगर पंचायतों के ई0ओ0 की जिम्मेदारी तय कर दिया था। डीएम के इस आदेश की नगर पंचायत चुर्क में किस प्रकार से मजाक उड़ाया गया। जनपद न्यूज़ live ने चुर्क नगर पंचायत की पड़ताल कर “जिलाधिकारी के आदेश के बाद भी ठण्ड रात में बाहर सोते मिले लोग, अलाव व चादर ही सहारा” और “हुक्मरानों के आदेश में गुजरा नया साल, न जाने कब नया साल आ गया” शीर्षक की खबर प्रमुखता से प्रकाशित की गई थी। उक्त खबरों को पढ़ने के बाद आज वरिष्ठ सपा नेता सईद कुरैशी ने उक्त गरीबों में कम्बल वितरण कर योगी सरकार को आड़े हाँथों लिया।

इस दौरान वरिष्ठ सपा नेता सईद कुरैशी ने कहा कि “मौजूदा प्रदेश सरकार में गरीबों की सुधि लेने वाला कोई नहीं है। मौजूद सरकार में मुख्यमंत्री सहित सभी जनप्रतिनिधी सिर्फ मीडियाबाजी व बयानबाजी करते हैं। असलियत की धरातल में गरीबों के हित का कोई कार्य नहीं नहीं किया जा रहा है। इतनी भीषण ठण्ड में भी जनप्रतिनिधियों और अधिकारियों द्वारा कम्बल वितरण नहीं कराया जाना शर्मनाक है। जबकि अखिलेश सरकार में गरीबों को ठण्ड के पूर्व ही गरीबों में हजारों हजार कम्बल वितरण कराया जाता था।”


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!