अंतरराष्ट्रीय गायक अजय पाठक सहित परिवार के 4 सदस्य के हत्याकांड का खुलासा, आरोपी गिरफ्तार

शामली पुलिस ने चार सदस्य परिवार के हत्याकांड का सनसनीखेज खुलासा किया है । पुलिस ने अंतरराष्ट्रीय गायक अजय पाठक के करीबी हिमांशु सैनी को गिरफ्तार किया है । हरियाणा के पानीपत के सेक्टर 13 से पुलिस ने आरोपी की गिरफ्तारी की है ।हत्यारोपी मां-बाप बेटी की हत्या कर फरार हो रहा था। साथ में हत्यारोपी अजय पाठक की कार व 10 वर्षीय बेटे को लेकर भाग रहे थे । सर्विलांस के माध्यम से पुलिस भी आरोपी का पीछा कर रही थी । लेकिन आरोपी पुलिस के हाथों से काफी दूर निकल चुका था और पानीपत के करीब टोल प्लाजा पर जाकर हत्यारोपी ने पेट्रोल छिड़ककर कार में आग लगा दी थी और बच्चे को भी जला कर मौत के घाट उतार दिया है। घटना के बाद से पुलिस की कई टीमें मामले का अनावरण करने में लगी थी । इसमें सफलता प्राप्त करते हुए पुलिस ने मुख्य हत्यारोपी को गिरफ्तार कर लिया है । जिसके कब्जे से पुलिस ने धारदार हथियार,3 मोबाइल व एक कार बरामद की है । हत्या का कारण पैसे के लेनदेन को लेकर बताया जा रहा है ।

पुलिस के मुताबिक हिमांशु सैनी ने अजय पाठक के यहां कमेटी डाल रखी थी । जिसके पैसों को लेकर दोनो में विवाद चल रहा था । जिन्हें लेने के लिए आरोपी हिमांशु घर पर पहुंचा था और वहां पर अपने पैसों की डिमांड की । जहां पर दोनों के बीच कहासुनी हुई और अजय पाठक ने हिमांशू को काफी बुरा भला कहा, जिस पर हिमांशू ने परिवार को खत्म करने की ठान ली और रात्रि के समय नींद में सो रहे अजय पाठक पर धारदार हथियारों से हमला कर मौत के घाट उतार दिया । जब आरोपी हिमांशू अजय पाठक को मार रहा था उसी दौरान पत्नी स्नेहा के उठने की सुरसुराहट पर आरोपी ने उस पर भी तलवार से वार कर मौत के घाट उतार दिया । जिसके बाद दोनो के शव उन्ही के बेडरूम में डाल दिया । आरोपी हिमांशू हत्या के बाद वहीं पर रहा और अलग अलग विचार दिमाग मे पनपते गए । जिसके बाद उसने अजय पाठक की बेटी को भी धारदार हथियारों से काटकर मौत के घाट उतार दिया और बेटी को ऊपर से घसीटते हुए नीचे ले आया और उसी दौरान बेटे भागवत को भी गला दबाकर हत्या कर दी । हत्याओं का सिलसिला रात भर चलता है । आरोपी इतना शातिर था कि उसने परिवार के सभी मृतको को कार में डालकर बाहर ले जाने की सोची और सभी को बारी बारी कार में डालने का प्रयास करने लगा । जिसे वह कर पाने में नाकाम रहा । वारदात के बाद दिन की शुरुवात होने लगी और पक्षियों की चह चाहट सुनकर आरोपी को दिन निकलने की आभास हुआ । जिसके बाद आरोपी हड़बड़ाहट में 10 वर्षीय बेटे भागवत को गाड़ी की डिक्की में डालकर कार लेकर फरार हो गए और शामली से होते हुए पानीपत, दिल्ली व फिर पानीपत हाईवे पर घूमता रहा और बाद में एक पेट्रोल पम्प से पेट्रोल लेकर कार को बच्चे सहित आग के हवाले कर दिया । जहाँ पर आरोपी को आग लगाते हुए पुलिस ने देख लिया और शामली पुलिस भी आरोपी का पीछा करते करते घटनास्थल पर पहुंच गई । जहाँ से हत्यारोपी हिमांशु भागने का प्रयास करने लगा लेकिन शामली पुलिस व हरियाणा पुलिस ने संयुक्त रूप से आरोपी को मौके पर ही दबोच लिया और 4 सदस्य परिवार का हत्याकांड परत दर परत खुलता चला गया। पुलिस ने जब गहनता से पूछताछ की तो आरोपी ने आलाकत्ल कबूल कर लिया । हत्यारोपी की निशानदेही पर पुलिस ने एक तलवार एक चाकू तीन मोबाइल फोन वह खून से लथपथ कपड़े बरामद किए हैं और सीसीटीवी को भी केस डायरी बनाया गया है । कई जगहों पर कार ले जाते हुए,आरोपी हिमांशु सैनी को देखा गया । जिसके आधार पर ही पुलिस ने इस पूरे घटनाक्रम का खुलासा किया है । फिलहाल पुलिस ने हत्यारोपी को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है और इस पूरे मामले की तफ्तीश शुरू कर दी है ।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!