देश के पहले CDS के तौर पर बिपिन रावत ने संभाला कार्यभार, कहा- CDS का काम तीनों सेनाओं को एकजुट बनाना

देश के पहले चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ के तौर पर बुधवार को बिपिन रावत ने कार्यभार संभाल लिया । साउथ ब्लॉक पर उन्हें तीनों सेनाओं के जवानों ने सलामी दी । पदभार संभालने के बाद बिपिन रावत ने मीडिया से बात की और उनकी नियुक्ति पर उठ रहे सवालों का जवाब भी दिया । राजनीतिक बयानबाजी को लेकर बिपिन रावत ने कहा कि सेना इससे दूर ही रहती है ।

बुधवार को बिपिन रावत ने कहा कि CDS का काम तीनों सेनाओं को एकजुट बनाना, हम इसी ओर आगे बढ़ेंगे । अब आगे की कार्रवाई टीम वर्क की जरिए होगी, CDS सिर्फ सहयोग करेगा। 1+1+1 के जोड़ को 3 नहीं, 5 या 7 बनाएंगे । जो भी संसाधन हैं, उसपर काम करते हुए आगे बढ़ेंगे ।

उन्होंने कहा कि हमारा पूरा फोकस तीनों सेनाओं को एक साथ करना होगा । इससे अलग जो काम हमें मिलेगा, हम उसपर आगे बढ़ेंगे । अगर सरकार ने तीन साल का कार्यकाल दिया है, तो कुछ सोच समझकर ही दिया होगा । बिपिन रावत से जब पूछा गया कि विपक्ष कहता है कि सेना को राजनीति से दूर रहना चाहिए, इसपर उन्होंने जवाब दिया कि हम राजनीति से दूर ही रहते हैं।

नौशेरा में जो दो जवान शहीद हुए हैं, उनपर किसी तरह की टिप्पणी करने से बिपिन रावत ने इनकार किया और कहा कि अभी वह इसपर कोई जवाब नहीं दे सकते हैं ।

पीओके को लेकर पर जब बिपिन रावत से सवाल हुआ तो उन्होंने कहा कि इस तरह के प्लान पब्लिक में नहीं बताए जाते हैं ।साइबर फोर्स को लेकर लगातार काम जारी है, अब आए हैं तो और भी तेजी से काम किया जाएगा ।

CDS पूरी तरह से न्यूट्रल होकर काम करेगा, किसी एक सेना की ओर उसका झुकाव नहीं होगा ।हम तीनों सेनाओं में समन्वय बैठाने के लिए किसी वेस्टर्न कल्चर नहीं बल्कि हम अपना नया कल्चर बनाएंगे ।

गौरतलब है कि हाल ही में केंद्र सरकार की ओर से सैन्य विभाग का ऐलान किया गया था, जिसकी अगुवाई चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ (CDS) ही करेंगे । इस विभाग के अंतर्गत तीनों सेना का काम होगा, CDS का मुख्य कार्य तीनों सेनाओं के बीच तालमेल स्थापित करना ही होगा ।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!