सुशासन दिवस के रूप में मनाया अटल का जन्मदिन

आनन्द कुमार चौबे (संवाददाता)

सोनभद्र । आज भारतीय जनता पार्टी के पुरोधा, पदम विभूषण सम्मानित, प्रखर वक्ता, प्रथम राष्ट्रीय अध्यक्ष, भारत रत्न स्व0 अटल बिहारी वाजपेयी के जन्म दिवस को सुशासन दिवस के रूप में रॉबर्ट्सगंज नगर मंडल स्थित नीलकंठ मंदिर पर मनाया गया। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में उपस्थित नवनिर्वाचित जिला अध्यक्ष अजीत चौबे के कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा कि स्व0 अटल जी का बाल्यकाल से ही संघ के संपर्क में आ गए और प्रचारक के रूप में जीवन राष्ट्र को समर्पित किया। जनसंघ के संस्थापक सदस्यों के एक आगे चलकर जनता पार्टी के अध्यक्ष के साथ 6 अप्रैल 1980 की भारतीय जनता पार्टी के स्थापना के बाद प्रथम अध्यक्ष बने व कुशल राजनेता के साथ सिद्धांत कवि भी थे। उन्होंने चार दशक से ज्यादा समय संसद में व्यतीत किया। जिसमें 10 बार लोकसभा और 2 बार राज्यसभा का प्रतिनिधित्व किया। उनके द्वारा बताए हुए रास्ते और राजनीतिक सुचिता का अनुसरण करना ही उनको सच्ची श्रद्धांजलि होगी। विशिष्ट अतिथि के रुप में उपस्थित नगर पालिका अध्यक्ष वीरेंद्र जयसवाल ने अटल बिहारी बाजपेयी के जीवन आदर्शों पर प्रकाश डाला। एक वाक्या सुनाते हुए उन्होंने कहा कि जब इंदिरा गांधी देश की प्रधानमंत्री थी, उस समय इंदिरा गाँधी भी विदेशी मामलों में अटल जी का सहयोग लिया करती थी।
कार्यक्रम की अध्यक्षता नगर अध्यक्ष विनोद सोनी जी ने किया जबकि कार्यक्रम संचालक महामंत्री अभिषेक गुप्ता ने किया।

इस दौरान राम लखन सिंह, पूर्व मंडल अध्यक्ष संजय जयसवाल, रविंद्र केसरी, रजनीश रघुवंशी, विनय श्रीवास्तव, अनुसूचित मोर्चा के अध्यक्ष अजीत रावत, पूर्व नगरपालिका अध्यक्ष कृष्ण मुरारी गुप्ता, वरिष्ठ नेता विष्णु देव सिंह, महिला मोर्चा नगर अध्यक्ष सरोज केसरी, पुष्पा, नर्मदा देवी, आरती देवी मंजू गिरी, ध्रुवकांत द्विवेदी, बलराम सोनी समेत सैकड़ों की संख्या में कार्यकर्ता उपस्थित रहे।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!