CAA के विरोध में मारे गए लोगों के परिजनों से मिलने मेरठ जा रहे राहुल व प्रियंका को पुलिस ने रोका

नागरिकता संशोधन कानून को लेकर हुए बवाल के दौरान मेरठ में मारे गए लोगों के परिजनों से मिलने मंगलवार को कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी और पार्टी के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी पहुंचे । लेकिन शहर में प्रवेश करते ही पुलिस ने उनके काफिले को रोक लिया और धारा 144 का हवाला देते हुए वापस लौटा दिया । गौरतलब है कि मेरठ में CAA के विरोध प्रदर्शन के दौरान हुए पथराव और आगजनी में चार लोगों की मौत हो गई थी । मारे गए लोगों के परिजनों से मिलने राहुल गांधी, प्रियंका गांधी, प्रमोद तिवारी व अन्य नेता दिल्ली से मेरठ पहुंचे थे ।

जैसे ही राहुल और प्रियंका गांधी का काफिला शहर के परतापुर क्षेत्र में पहुंचा पुलिस ने उन्हें रोक लिया । इसके बाद पुलिस ने राहुल व प्रियंका को धारा 144 का नोटिस दिखाया । इसके बाद उनका काफिला वापस लौट गया। उधर एसएसपी अजय कुमार साहनी ने कहा कि प्रियंका व राहुल को रोका नहीं गया । उन्हें जिले में धारा 144 लागू होने की जानकारी दी गई, जिसके बाद वे खुद वापस लौट गए । हालांकि दिल्ली लौटने के बाद मीडिया से बातचीत में राहुल गांधी ने कहा कि पुलिस वाले ने हमको रोका. हमने पूछा कि आपके पास कोई आर्डर है, लेकिन उन्होंने कोई आर्डर नहीं दिखाया ।

फिलहाल जिले में इंटरनेट सेवाएं चालू कर दी गई हैं और आम जनजीवन वापस पटरी पर लौट रहा है । प्रियंका और राहुल के दौरे पर पुलिस और खुफिया एजेंसियां नजर रखे हुए थीं । वहीं दूसरी ओर लगातार इस मामले पर हो रही बयानबाजी ने सियासी आग में घी डालने का काम किया है । सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव पहले ही यूपी सरकार पर आरोप लगा चुके हैं ।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!