स्व0 चौधरी चरण सिंह के जन्मदिवस पर किसान हुए सम्मानित

दीनदयाल शास्त्री (ब्यूरो)

पीलीभीत । नेकिशनल मिशन आॅन एग्रीकल्चर एक्सटेंशन एण्ड टैक्नाॅलाजी के सब मिशन आॅन एग्रीकल्चर एक्सटेंशन योजना के अन्तर्गत गत वर्षों की भांति इस वर्ष भी गांधी स्टेडियम के प्रेक्षागृह में स्व0 चैधरी चरण सिंह (भूतपूर्व प्रधानमंत्री जी) के जन्म दिवस पर किसान सम्मान दिवस का आयोजन किया गया ।

इस अवसर पर आयोजित किसान मेले का उद्घाटन जिलाधिकारी वैभव श्रीवास्तव द्वारा फीता काटकर किया गया। इस अवसर पर विधायक रामसरन वर्मा, विधायक सदर संजय सिंह गंगवार द्वारा कार्यक्रम में स्व0 चौधरी चरण सिंह की प्रतिमा पर माल्यार्पण कर श्रद्वा सुमन अर्पित किये गये। किसान सम्मान दिवस के अवसर पर कृषि एवं कृषि क्षेत्र से जुडे़ उच्च उत्पादन प्राप्त करने वाले किसानों को प्रशस्ति पत्र देकर पुरस्कृत किया गया।
सम्मानित कृषकों में जैसे कृषि, गन्ना, कृषि विभाग केन्द्र, डीएचओ, मत्स्य आदि क्षेत्रों में उच्च उत्पादन हेतु प्रदान किया गया।
आयोजित किसान सम्मान दिवस पर लगे विभिन्न विभागों के स्टालों का जिलाधिकारी द्वारा भ्रमण कर सम्बन्धित योजनाओं के बारे में जानकारी प्राप्त कर आम जनमानस तक योजनाओं का लाभ पहुंचान हेतु निर्देशित किया।
इस दौरान जिलाधिकारी द्वारा मृदा स्वास्थ्य परीक्षण के सम्बन्ध में जिला कृषि अधिकारी को निर्देशित किया गया कि पराली जलाये गये खेतों का मृदा परीक्षण व पराली को जैविक खाद के रूप में परिवर्तित किये गये खेत की मिट्टी का परीक्षण कराकर तुलनात्मक रिपोर्ट प्रेषित की जाये। इस सम्बन्ध में किसानों को भी अवगत कराया जाये।
वही जिलाधिकारी द्वारा कृषि उपकरणों से सम्बन्धित लगे स्टालों का निरीक्षण के दौरान जिला कृषि अधिकारी को निर्देशित किया कि आगामी दिनों में यह सुनिश्चित किया गया जाये कि कम्बाइन मशीन के साथ रीपर का प्रयोग सुनिश्चित किया जाये।
आयोजित कार्यक्रम में विधायक बीसलपुर द्वारा किसानों को सम्बोधित करते हुये कहा कि महापुरूष स्व0 चौधरी चरण सिंह के जन्म दिसव को किसान सम्मान दिवस के रूप में मनाया जा रहा है।
जिनकी पहचान किसान पुरूष के रूप में की जाती है। उन्होंने किसानों के हित को ध्यान में रखते हुये जमींदारी जैसी प्रथा का अन्त कर किसानों को पूर्ण अधिकार प्रदान किया गया। उन्होने किसानों को उचित मूल्य प्रदान करने हेतु तथा कृषि उत्पादन को बढ़ाने का निरन्तर प्रयास किया गया।
वही डीएम द्वारा किसान मेंले में आये किसान बन्धुओं को भेड पालन, मुर्गी पालन, बकरी पालन जैसे व्यवसाय कृषि के साथ साथ करने के लिए प्रेरित किया। विधायक द्वारा किसानों को नियमित मृदा परीक्षण कराकर और फसलचक्र अपना कर अधिक से अधिक उत्पादन बढ़ाने हेतु प्रेरित किया गया।
विधायक सदर द्वारा किसानों को सम्बोधित करते हुये कहा कि हमारी सरकार द्वारा किसानों को हित में रख कर योजनाओं का संचालन कर रही है और 2022 तक किसानों की आय दोगुनी करने के लिए प्रयासरत है। हमारी सरकार द्वारा किसानों को उत्पादन उचित मूल्य प्रदान कर लाभान्वित कर रही है।
आयोजित कार्यक्रम में जिलाधिकारी द्वारा जनपद के दूर दराज क्षेत्रों से आये किसान बन्धुओं का आभार व्यक्त करते हुये कहा कि कृषकों की आज सबसे बडी समस्या पराली, नरई/पताई की समस्या से है जिसके समाधान हेतु जिला प्रशासन द्वारा मनरेगा से जोडकर फसल अवशेष को जैविक खाद के रूप में परिवर्तित करने की योजना चलाई जा रही है, जिसमें किसान बन्धुओं को पराली, गेहूं की नरई हेतु मनरेगा के माध्यम से रू0 3640 का श्रमांस व गन्ने की पताई के लिए रू0 2548 श्रमांस दिया जा रहा है। आप सभी लोगों योजना का लाभ उठाकर फसल अवशेष को जैविक खाद के रूप में परिवर्तित कर सकते हैं, इसके लिए आप अपने ग्राम प्रधान व खण्ड विकास अधिकारी से सम्पर्क स्थापित कर योजना का लाभ प्राप्त कर सकते हैं।
किसान मेला में कृषि एवं सहयोगी विभागों के जनपद स्तरीय अधिकारियों ने भाग लिया और अपने अपने विभाग से सम्बन्धित योजनाओं के सम्बन्ध में किसान बन्धुओं को जानकारी प्रदान की। मेला में यूपी स्टेट एग्रो, बीज विकास निगम, कृषि उपकरण, गन्ना, उद्यान विभाग, रेशम विभाग, मत्स्य, मृदा परीक्षण, बैंक आफ बडौदा, विद्युत विभाग आदि ने अपने अपने स्टाल लगाकर अपनी योजनाओं का प्रचार प्रसार किया।
आयोजित किसान सम्मान दिवस पर कृषि विज्ञान केन्द्र द्वारा पुरस्कृत कृषकों में पुष्पजीत सिंह प्राकृतिक खेती पचपेडा प्रलाहदपुर, यादवेन्द्र शाह दलहन खेती, जनरैल सिंह जैविक कीटनाशी प्रयोग, दिनेश कुमार दीक्षित कृषि विविधीकरण, पार्थो तिलहन, मो0 हनीफ फूलो की खेती, खूबचन्द्र मौर्य औषधीय फसलों के लिए नवीनतम कृषि तकनीकी का प्रयोग करते हुये अपने अपने क्षेत्र में उधिकतम उत्पादन प्राप्त कर रहे हैं।
किसान मेले में मुख्य विकास अधिकारी रमेश चन्द्र पाण्डेय, उप निदेशक यशराज सिंह, अपर निदेशक मत्स्य, डीडीएम नाबार्ड, जिला गन्ना अधिकारी, लीड बैंक मैनेजर, अधिशासी अभियन्ता विद्युत सहित अन्य अधिकारी व कृषक बन्धु उपस्थित रहे।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!