भारतीय होने का सबूत मांगने का किसी को भी इजाजत नहीं – प्रियंका गांधी

बिजनौर । कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी ने कहा कि हिंदुस्तान में रहने वाले लोगों के पास भारतीय होने का जो सबूत है उसे मांगने का किसी को भी इजाजत नहीं है । प्रियंका गांधी आज धामपुर तहसील के कस्बा नहटौर में उपद्रवियों की गोली से मरे दो युवकों के परिजनों को सांत्वना देने आएंगे प्रियंका गांधी के अचानक जनपद आगमन से जिला प्रशासन में हड़कंप मचा रहा। रविवार को शाम 5 बजे अचानक कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी का काफिला नहटौर पहुंच गया कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव के आने की सूचना से नेट और पुलिस प्रशासन में हड़कंप मच गया नेट उधर प्रियंका गांधी सीधे अनस के घर पहुंच गई । घटना के संदर्भ में जानकारी लेकर उन्हें शोक संवेदना जताई । इसके बाद सुलेमान भोमराज के घर पर भी परिजनों को सांत्वना देने के बाद उन्होंने मीडिया से बात करते हुए कहा कि भारत देश में भारतीय होने का सबूत मांगना भाजपा की मानसिकता को दर्शाता है भारतीयता का होने का सबूत मांगना कि किसी को भी इजाजत नहीं है ।

उन्होंने कहा कि भाजपा जो यह गरीबों के खिलाफ काला कानून लाई है इससे गरीब किसान मजदूर दैनिक मजदूरों को बेहद परेशानी हो रही है उन्होंने कहा कि सन 1971 से पहले के रहने वाले लोग अब कहां से यह कागज लाएंगे कि वह अपने को भारतीय होना साबित कर सकें। इससे पूर्व प्रियंका गांधी मृतकों के परिजनों से इतनी आत्मीयता से मिली कि जैसे वह इन्हें वर्षों से जानती हो। प्रियंका गांधी ने मृतकों के परिजनों को हरसंभव मदद का आश्वासन देते हुए कहा कि वह इस मामले को उच्च स्तरीय जांच कमेटी से कराने की मांग करती हैं



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!