नागरिकता संशोधन कानून को लेकर बिहार में प्रदर्शन, बवाल व तोड़फोड़

नागरिकता संशोधन कानून को लेकर यूपी, गुजरात, दिल्‍ली, कर्नाटक, असम के बाद अब बिहार में भी विरोध प्रदर्शन तेज हो गया है। बिहार में पिछले कुछ दिनों से चल रहे विरोध प्रदर्शनों के बीच राज्‍य में मुख्‍य विपक्षी दल राष्‍ट्रीय जनता दल ने आज बंद बुलाया है। सुबह से ही आरजेडी के कार्यकर्ता सड़कों पर उतर आए हैं और ट्रेनों को रोका जा रहा है।

भागलपुर में आरजेडी कार्यकर्ता करीब डेढ़ घंटे से प्रदर्शन कर रहे हैं और उन्‍होंने सड़कों पर चल रहे वाहनों में तोड़फोड़ की है। वे नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ नारेबाजी कर रहे हैं। भागलपुर में विरोध प्रदर्शन और तोड़फोड़ के बीच पुलिस के जवान सड़कों पर दिखाई नहीं दे रहे हैं। आरजेडी के कार्यकर्ता जबरन दुकानें बंद करा रहे हैं। आरजेडी नेता तेजस्‍वी यादव ने कहा था कि बंद शांतिपूर्ण होगा, लेकिन इसके बावजूद बंद समर्थकों ने तोड़फोड़ की।
नवादा में लगाया जाम

नवादा जिला में आरजेडी कार्यकर्ताओं ने पटना-रांची राष्‍ट्रीय राजमार्ग पर सद्भावना चौक के पास आगजनी की और रास्‍ता जाम कर दिया। इससे सड़कों पर दोनों तरफ वाहनों की लंबी कतार लग गई। सुबह से ही आरजेडी के सैकड़ों कार्यकर्ता सद्भावना चौक पहुंचकर जाम को सफल बनाने में जुट गए और लोगों को इस बंद में शामिल होने की अपील की। जिला कार्यालय से भी कार्यकर्ताओं का जत्था शहर में घूम-घूम कर दुकानों को बंद करा रहा है।

दरभंगा में आरजेडी कार्यकर्ता भीषण ठंड के बावजूद कपड़े उतारकर प्रदर्शन कर रहे हैं। उन्‍होंने सड़कों पर टायर जलाए हैं और नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ नारेबाजी की है। इन लोगों ने अपने हाथों में पोस्‍टर लिया हुआ था जिस पर लिखा था, ‘नीतीश कुमार, तौबा, तौबा, तौबा…।’ ये कार्यकर्ता ‘हिटलरशाही नहीं चलेगी’ के नारे भी लगा रहे हैं।

राजधानी पटना में पुलिस ने सुरक्षा के पुख्‍ता इंतजाम किए गए हैं। सड़कों पर भारी पुलिसबल तैनात है। हालांकि आरजेडी समर्थक हाथों में डंडा लेकर विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं। बस स्टैंड के पास प्रदर्शनकारियों ने कुछ गाड़ियों में तोड़फोड़ भी इन कार्यकर्ताओं का कहना है कि सीएए और एनआरसी गलत है और हम इसका विरोध करता है। ऑल इंडिया मुस्लिम लीग के कार्यकर्ता भी इस बंद का समर्थन कर रहे हैं। पटना में विकासशील इंसान पार्टी (वीआईपी) के वर्कर्स ने प्रदर्शन के दौरान पुलिस के बैरिकेड को हटा दिया।

जहानाबाद में आरजेडी के कार्यकर्ताओं ने कोर्ट स्टेशन पर रेलवे ट्रैक पर आगजनी की। उन्‍होंने पटना से गया जाने वाली ट्रेन को रोक दिया। राष्‍ट्रीय राजमार्ग संख्‍या 83 पर कई गाड़ियों के टायरों की हवा निकाल दी गई। इससे वाहनों का आवागमन ठप हो गया और एनएच पर गाड़ियों की लंबी कतार लग गई। जिला कार्यालय से आरजेडी कार्यकर्ताओं का जत्था शहर में घूम-घूम कर दुकानों को बंद करा रहा है।

छपरा में भी आरजेडी वर्कर्स प्रदर्शन कर रहे हैं। यहां बाजार समिति चौक के पास सड़क को जाम कर दिया गया। इससे कई गाड़ियां फंस गईं। खासकर छपरा-पटना और आरा में भी बंद का व्यापक असर दिख रहा है। आरा-मोहनिया एनएच-30 पर जगदीशपुर के इसाढ़ी मोड़ के पास प्रदर्शनकारियों ने आगजनी की और इस राजमार्ग को जाम कर दिया। इससे यहां गाड़ियों की लंबी कतार लग गई।

बता दें कि बिहार प्रशासन ने दावा किया है कि आरजेडी के बंद को देखते हुए पुलिस-प्रशासन अलर्ट है। पूरे राज्‍य में सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं। पटना शहर में 50 मैजिस्‍ट्रेट को तैनात किया गया है। करगिल चौक के आसपास धारा 144 लगाई गई है। प्रशासन को निर्देश दिया गया है कि जबरन बंद कराने वालों के खिलाफ कार्रवाई की जाए। इसके अलावा अस्‍पतालों और अग्निशमन सेवा को सतर्क किया गया है।

बिहार पुलिस ने कहा है कि बंद के दौरान सभी जिलों के एसपी को शांति और व्‍यवस्‍था बनाए रखने के निर्देश द‍िए गए हैं। प्रदर्शनकारियों की विड‍ियोग्राफी भी कराई जाएगी। पुलिस ने कहा है क‍ि अगर प्रदर्शनकारी हिंसा करेंगे तो पुलिस उनके साथ सख्‍ती से निपटेगी। सभी महत्‍वपूर्ण और संवेदनशील स्‍थानों पर पुलिस बल को तैनात किया गया है। रेलवे स्‍टेशनों को निशाना बनाने की प्रदर्शनकारियों की किसी भी कोशिश को विफल करने लिए बड़ी संख्‍या में सुरक्षाकर्मी तैनात हैं।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...