उत्तर प्रदेश शिक्षक पात्रता परीक्षा (UPTET)-2019 को नकल विहीन परीक्षा सम्पन्न कराने के लिए की बैठक

अबुलकैश डब्बल

चंदौली। जिलाधिकारी नवनीत सिंह चहल की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट सभागार में उत्तर प्रदेश शिक्षक पात्रता परीक्षा (UPTET)-2019 को नकल विहीन परीक्षा सम्पन्न कराने के लिए बैठक की गई।
जिलाधिकारी ने बताया कि जनपद में 11 परीक्षा केंद्र/सेंटरों का स्थापना कर, 03 जोन,11 सेक्टर में विभाजित कर दिया गया है। नकल विहीन परीक्षा कराने के लिए प्रशासन कटिबद्ध है। प्रत्येक केंद्रों पर स्टैटिक मजिस्ट्रेट की भी ड्यूटी लगाई गई है। जिलाधिकारी ने बताया परीक्षा दिनांक 22 दिसंबर 2019 को प्रथम पाली-प्राथमिक स्तर प्रातः 10:00 बजे से 12:30 बजे एवं द्वितीय पाली 2:30 बजे से 5:00 बजे तक आयोजित होगी। जनपद में कुल 11111 परीक्षार्थी चयनित है, प्राथमिक स्तर पर 7756 परीक्षार्थी उच्च प्राथमिक स्तर पर 3355 परीक्षार्थी है। परीक्षा केंद्रों पर पर्याप्त संख्या में सीसीटीवी कैमरे वॉइस रिकॉर्ड के साथ अनिवार्य रूप से लगा रहेगा परीक्षा को शुचितापूर्ण ढंग से संपन्न कराना है। जिलाधिकारी ने उ0प्र0शिक्षक पात्रता परीक्षा केंद्र के 200 मीटर की परिधि में धारा 144 प्रभावी रहेगा तथा उक्त परिधि में परीक्षा से संबंधित लोगों को छोड़कर अन्य किसी भी व्यक्ति के प्रवेश पर पूर्णता प्रतिबंध रहेगा। परीक्षा केंद्र परीक्षा भवन में परीक्षार्थियों के साथ-साथ कक्ष निरीक्षक को तथा अन्य किसी भी कर्मचारियों को मोबाइल या अन्य कोई इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस ले जाने की अनुमति नहीं है । केंद्र व्यवस्थापक/पर्यवेक्षक एवं स्टैटिक मजिस्ट्रेट परीक्षा केंद्र पर अपने साथ ऐसा मोबाइल फोन ले जा सकते हैं जो सामान्य कीपैड वाला कैमरा रहित फोन हो, और स्मार्टफोन की श्रेणी में न आता हो दोषी पाए जाने पर उनके विरुद्ध दंडात्मक कार्यवाही की जाएगी। परीक्षार्थी को परीक्षा हाल कक्ष के भीतर प्रवेश पत्र तथा काले/नीले बॉल पॉइंट पेन के अलावा किसी भी प्रकार की सामग्री ले जाना वर्जित रहेगा। साथ ही यह भी पूर्ण रूप से सुनिश्चित कर लें परीक्षा केंद्र में प्रवेश कर चुका कोई भी परीक्षार्थी परीक्षा समाप्ति के पूर्व कक्ष निरीक्षक की अनुमति के बिना किसी भी परिस्थिति में परीक्षा केंद्र से बाहर न जाएं । परीक्षा दिवस के दिन परीक्षा केंद्र के आस-पास 200 मीटर की परिधि में फोटो स्टेट आदि की दुकानें नहीं खुलेगी, खोलने वाले के खिलाफ दंडात्मक कार्रवाई तत्काल सुनिश्चित की जाए। परीक्षा केंद्र पर तैनात जोनल मजिस्ट्रेट पर्यवेक्षक एवं स्टैटिक मजिस्ट्रेट अपने से संबंधित परीक्षा केंद्र पर आवंटित परीक्षार्थियों की परीक्षा व्यवस्था के दृष्टिगत परीक्षा केंद्र का अनिवार्य रूप से भ्रमण कर लें तथा केंद्र व्यवस्थापक प्रधानाचार्य से समन्वय स्थापित कर सारी व्यवस्था समय से पूर्ण करा लें। इस अवसर पर पुलिस अधीक्षक हेमंत कुटियाल ने कहा कि परीक्षा केंद्रों पर पर्याप्त पुलिस बल की व्यवस्था रहेगी।
बैठक के दौरान जिला विद्यालय निरीक्षक विनोद राय, जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी भोलेन्द्र प्रताप सिंह, तहसीलदार सकलडीहा सहित विभागीय अधिकारी उपस्थित थे।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!