फुलवरिया ( कैथी ) गांव में बसवाडी में बांधा गया छुट्टा पशु

सुधीन्द्र पाण्डेय (संवाददाता)

चहनिया । प्रदेश सरकार का फरमान पशु चिकित्सालय बिभाग हवा हवाई साबित हो रही है । फुलवरिया प्राथमिक विद्यालय में दर्जनों अवारा पशुओं को किसानों द्वारा बन्द कर दिया गया था। जिसको अधिकारी गोशालाओ मे भेजने पर आना कानी कर रहे है।केवल 22 पशुओं को ही गोसाला तक पहुँचाया गया है। बाकी 40 पशुओं को बाहर बाँधकर हवा खिलाई जा रही है। फुलवरिया ( कैथी ) गांव में बिगत दो दिन पूर्व ग्रामीणों द्वारा खेत करने पर छुट्टा पशुओ को प्राथमिक विद्यालय में बंद कर दिया गया था । जो सूचना पर पहुचे पशु चिकित्साधिकारी डॉ0 सी बी सिंह ने पशुओ को बाहर निकाल बाहर बांध दिया था ।
ग्रामीणो का कहना है पशुओं को जिस दिन स्कूल मे बाँधा गया था । उस दिन केवल 11पशुओं को ही गोशाला ले गये। दूसरे दिन भी कुछ पशुओं को भेजे ।लेकिन आज भी 40पशु खुले मे पड़े है।बिना चारा पानी के पशु हवा खाने को मजबूर है। हमलोग पशुओ को चारा पानी दे रहे है ।इस कढाके की ठंड मे यदि शिघ्र पशुओं को गोशाला नहीं भेजा गया तो। मरने से नहीं रोका जा सकता ।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!