डीएम, एसपी की अपील मुस्लिम समाज के धर्मगुरू व मदरसों के अध्यापक किसी भी अफवाह से बचें

आनन्द कुमार चौबे (संवाददाता)

सोनभद्र । “मुस्लिम धर्म के गुरूजन, मुस्लिम समाज के मदरसा के प्रभारी अधिकारीगण अपने-अपने मदरसों के छात्रों के साथ ही आम नागरिकों में सामाजिक समरसता बनाये रखने यानी जिले में कानून व्यवस्था, अमन-चैन बनाये रखने के लिए सार्थक मदद करें। किसी भी हाल में उत्तेजक या माहौल बिगाड़ने वाले संदेशों को प्रसारित न होने दें। कहीं भी अप्रिय घटना की स्थिति की जानकारी हों तो तत्काल स्थानीय पुलिस प्रशासन के साथ ही जिलाधिकारी व पुलिस अधीक्षक को जानकारी दें।”

उक्त बातें जिलाधिकारी एस0 राजलिंगम व पुलिस अधीक्षक आशिष श्रीवास्तव ने जिले के मुस्लिम समाज के धर्मगुरूओं व जिले में स्थापित मदरसों के प्रधानाचार्यों के साथ आयोजित समन्वय बैठक में कही। दोनों वरिष्ठ अधिकारियों ने कहा कि सोनभद्र का इतिहास काफी अमन चैन का रहा है। इस अमन चैन को बेहतर बनाये रखने के लिए जिले में कानून व्यवस्था बनाये रखने में मदद करें। उन्होंने कहा कि नागरिकता संशोधन विधेयक-2019 के लागू होने से मुस्लिम समाज अथवा किसी के ऊपर कोई प्रतिकूल प्रभाव नहीं पड़ेगा। डीएम एसपी ने जानकारी देते हुए मुस्लिम समाज के धर्मगुरूओं व मदरसों के अध्यापकों से अपील किया कि वे किसी भी अफवाह से बचें और समाज में अफवाह फैलाने वालों पर भी निगाह रखें।
डीएम एस0 राजलिंगम, एसपी आशिष श्रीवास्तव, एडीएम योगेन्द्र बहादुर सिंह, एसडीएम सदर यमुनाधर चौहान, जिले के मुस्लिम धर्मगुरूजन सहित अन्य सम्बन्धितगण मौजूद रहे।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!