खबर का असर : अवैध खनन व परिवहन रोकने के लिए टीम गठित

आनन्द कुमार चौबे (संवाददाता)

– डीएम का निर्देश राजस्व विभाग, पुलिस विभाग, वन विभाग व खनन विभाग आपसी समन्वय बनाकर करें काम

– खनिजों का ओवरलोड परिवहन करने वालों के खिलाफ डीएम हुए सख्त

– डीएम का निर्देश टोलवेज अधिकारी नियमित रूप से देंगे ओवरलोड वाहनों की सूची

– वाहनों पर क्षमता से अधिक खनिज लोड करने पर होगी खनन पट्टाधारकों/क्रशर पर कार्यवाही

सोनभद्र । “जिले में चल रहे खनन पर प्रभावी नियंत्रण बनाये रखने के लिए राजस्व विभाग, पुलिस विभाग, वन विभाग व खनन विभाग से सम्बन्धित अधिकारी आपस में समन्वय बनाकर कार्य करें और संयुक्त टीम गठित कर खनन सामग्री के परिवहन पर निगाह रखते हुए ओवर लोडिंग को रोका जाय। टोलवेज के प्रभारी रोजाना नियमित रूप से खनन सामग्री के ओवर लोडिंग वाहनों की सूची उपलब्ध करायें। खान अधिकारी व जिला सूचना विज्ञान अधिकारी समन्वय स्थापित कर ओवर लोडिंग रोकने के सम्बन्ध में जिले स्तर पर कन्ट्रोल रूम की स्थापना करें, जिससे नियमित समीक्षा करते हुए ओवर लोड पर पूर्णतया अंकुश लगाया जाय सके। जिले में ओवरलोड को हर हाल में नियंत्रित किया जाय।”

उक्त निर्देश जिलाधिकारी एस0 राजलिंगम व पुलिस अधीक्षक आशीष श्रीवास्तव ने संयुक्त रूप से आज कलेक्ट्रेट सभागार में आयोजित मुख्य खनिजों व उप खनिजों का परिवहन करने वाले ओवरलोड वाहनों पर प्रभावी नियंत्रण की प्रक्रिया निर्धारित करने के सम्बन्ध में तैयारी बैठक में सम्बन्धितों को दिया। जिलाधिकारी व पुलिस अधीक्षक ने कहा कि नियमानुसार कार्य करने वालों को कोई दिक्कत नहीं होगी, मगर जो नियम विरूद्ध खनिजों का ओवर लोडिंग करते पाया जायेगा, उनके खिलाफ प्रभावी कार्यवाही की जायेगी। उन्होंने कहा कि पट्टाधारकों को खान अधिकारी साफ तौर पर निर्देश निर्गत करने की जिन खनन पट्टाधारकों अथवा क्रशर संचालकों द्वारा मानक से अधिक वाहनों पर खनिज अथवा उप खनिज लादा जायेगा, उनके खिलाफ भी प्रभावी कार्यवाही की जायेगी।

बैठक में जिलाधिकारी एस0 राजलिंगम, पुलिस अधीक्षक आशिष श्रीवास्तव, अपर जिलाधिकारी योगेन्द्र बहादुर सिंह, उप जिलाधिकारी सदर यमुनाधर चौहान, घोरावल प्रकाश चन्द्र, डिप्टी कलेक्टर जैनेन्द्र सिंह, एआरटीओ पी0एस0 राय, खान अधिकारी के0के0 राय, पुलिस क्षेत्राधिकारी राम आशिष यादव सहित अन्य सम्बन्धितगण मौजूद रहे।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!