बेमौसम बरसात से जलमग्न हुआ खेत-खलिहान, किसानों के टपके आँसू

आनन्द कुमार चौबे (संवाददाता)

सोनभद्र । दो दिन पूर्व से हो रही बेमौसम बारिश ने किसानों के अरमान को चकनाचूर कर दिया है। खेत से लेकर खलिहान तक धान की फसल जलमग्न हो गई है। कहीं खलिहान में धान का डाला गया दंवरी के लिए पैरा पानी में तैर रहा है तो कहीं बढ़ावन के लिए खलिहान में पड़ा धान की रास पानी में डूबी हुई है। रबी फसल की बुआई के लिए तैयार किए गए खेतों में भी पानी भर गया है। जिस कारण किसानों को भारी क्षति होने का अनुमान लगाया जा रहा है। जिस मौसम में किसानों की जेब गर्म रहती थी। वे खुशहाल नजर आते थे। उसी मौसम में प्रकृति के दगा देने से उनके चेहरे पर थकान व मायूसी स्पष्ट देखी जा रही है। इस बारिश से किसानों को चौतरफा नुकसान उठाना पड़ रहा है

किसानों पर प्रकृति की इस मार पर जिलाध्यक्ष भाजपा अजीत चौबे, सदर विधायक भूपेश चौबे, जिला पंचायत अध्यक्ष अमरेश पटेल मरहम लगाने पहुँचे। उपस्थित जनप्रतिनिधियों ने स्थानीय प्रखंड के लसड़ा, धोबही, अक्क्षोर, कुसहा आदि गांवों का दौरा कर खेतों में जाकर खराब हुई फसल को देखा। खलिहानों में पानी भर गया है। तमाम खेतों में बुआई नहीं हुई है। तत्पश्चात किसानों से मिलकर उनकी समस्या को गम्भीरता से सुना।
जिलाध्यक्ष अजीत चौबे ने कहा कि “इस सम्बन्ध में जिलास्तरीय अधिकारियों से बात की जाएगी, किसानों को फसल बीमा का लाभ मिले। इसके लिए जिलाधिकारी से भी वार्ता की जाएगी।”

वहीं सदर विधायक ने किसानों को भरोसा दिलाया कि “असमय हुई बरसात से जो क्षति हुई है, उससे मुख्यमंत्री को अवगत कराऊंगा। किसानों के लिए फसल बीमा योजना लागू है। इसका लाभ दिलाया जाएगा।”

इस मौके पर जिला उपाध्यक्ष कमलेश चौबे व पूर्व जिला महामंत्री आलोक सिंह, संतोष शुक्ल, किसान मोर्चा के जिला उपाध्यक्ष वाचस्पति तिवारी, पूर्व प्रमुख रमेश मिश्र, दिलीप चौबे, बिमलेश पटेल, विनोद पटेल, गुड्डू मौर्या, सुरेंद्र चौहान, मंडल अध्यक्ष चुर्क महेंद्र पांडेय समेत तमाम लोग मौजूद रहे।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!