आरएफसी कर्मचारियों के लापरवाही से भीगा सैकड़ो कुन्तल धान

विनोद कुमार (संवाददाता)

शहाबगंज । आरएफसी के क्रय केन्द्र पर कर्मचारियों के लापरवाही के कारण खुले आसमान के नीचे पड़े धान भीग गये। जिसके कारण लाखों रुपये की राजस्व की क्षति होगी।सेमरा गांव में विपणन शाखा केन्द्र पर धान क्रय केन्द्र बनाया गया है। जहां किसानों के धान की खरीद किया जा रहा था। लेकिन उचित भण्डार नहीं होने के कारण सभी धान की बोरिया खुले आसमान के नीचे पड़ी हुई हैं।जबकि धान की खरीद के बाद धान को मिलरों के पास कुटाई के लिए भेजा जाता है। लेकिन विभागीय लापरवाही के कारण सभी धान खुले आसमान के नीचे पड़े हुए हैं। मौसम खराब होने को लेकर मौसम विभाग द्वारा पूर्व में ही अलर्ट जारी किया गया था। बाबजूद इसके विभाग द्वारा कोई ब्यवस्था नहीं किया गया। भारी बारिश होने के बाद सभी धान की बोरिया भीग गयी। लापरवाही का आलम यह रहा कि शुक्रवार सुबह 11 बजे तक आरएफसी गोदाम पर नियुक्त कोई कर्मचारी मौजूद नहीं था।सुचना के बाद 2 बजे के बाद आरएफसी कर्मियों के मौके पर पहुंचने के बाद भीगे हुए धान की बोरियों को गोदाम में रखवा दिया।वहीं आरएफसी गोदाम संचालक और इंचार्ज के खिलाफ क्षेत्रीय जनों में भारी रोष व्याप्त है।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!