श्रीराम लीला के पांचवें दिन ताड़का सुबाहु मारीच के उद्धार का हुआ मंचन

घनश्याम पांडेय/विनीत शर्मा (संवाददाता)

चोपन । चोपन के सिंदुरिया गांव में परंपरागत आयोजित श्रीराम लीला के पांचवें दिन ताड़का सुबाहु मारीच के उद्धार और राजा जनक के निमंत्रण पर महर्षि विश्वामित्र के साथ राम और लक्ष्मण का गंगा पार कर जनक के अमराई में विश्राम और राजा जनक के राज भवन में विशेष अतिथि के रूप में आगमन का मंचन धूम धाम से किया गया। महर्षि विश्वामित्र ने यज्ञ में राक्षसों के उपद्रव के कारण भगवान का वन में आगमन हुआ और राक्षसों का वध कर निर्विध्न यज्ञ संपन्न करा कर साधू संतो को सुख दिया। इस मौके पर दूरदराज के आए हुए लोगों के द्वारा रामलीला कलाकार जोकर ताड़का चाची को किसने मारा रे इस गाने से सबका मन को मोह लिया।

जिसमें रहे रमिला समिति के अध्यक्ष सुरेश पांडेय व्यास, मुरली तिवारी, नरसिंह तिवारी, विजया तिवारी, विद्या शंकर पांडेय, राम नारायण पांडेय, प्रेम शंकर पांडेय, रवि पांडेय, शीतला प्रसाद, श्रीराम पांडेय, जय, राकेश पांडेय, बिंदु पांडेय, नरेंद्र पांडेय, राजबली मिश्रा समस्त पांडे परिवार मौजूद रहे।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!