ओबरा नाव हादसा : लापता दो महिलाओं का शव बरामद

कृपा शंकर पांडेय के साथ

घनश्याम पांडेय/विनीत शर्मा (संवाददाता)

चोपन । स्थानीय थाना क्षेत्र अन्तर्गत खैरटिया गांव के रेणु नदी तट पर नदी पार कर गुडुर गांव जाने हेतु बने घाट पर सोमवार की शाम दर्जन भर यात्रियों से भरी नाव के अचानक गहरे पानी में डूबने से अफरातफरी मच गई। यात्रियों की चीख पुकार सुनकर नदी तट के दोनों ओर बैठे ग्रामीणों ने तत्काल नदी में छलांग लगाकर नौ यात्रियों को गहरे पानी में डूबने से बचाते हुए बाहर निकाल जान बचाई। जबकि दो महिलाओं की डूबने से मौत हो गयी। दोनों महिलाओं के शवों को चोपन थाना क्षेत्र के सिंदुरिया से आज सुबह बरामद किया गया। वहीं सूचना पाकर मौके पर पहुँची पुलिस ने बचाये गए 9 यात्रियों को उपचार हेतु चिकित्सालय भेजवा दिया। जानकारी के अनुसार सोमवार की शाम लगभग साढे पांच बजे गुडुर गांव निवासी लगभग एक दर्जन यात्री प्रतिदिन की भांति ओबरा नगर में दूध बेचकर नाव में बैठकर अपने गांव गुडुर जा रहे थे। इसी बीच पानी का तेज बहाव होने के चलते नाव अनियंत्रित होकर गहरे पानी में पलट गई। मौके पर बाहर निकाले गए ग्रामीणों के अनुसार नाव पर 35 वर्षीय रामरति पत्नी राम प्रसाद, 32 वर्षीय अंती पत्नी कृपाल, 40 वर्षीय मुनिया पत्नी बजेदर, 45 वर्षीय मुन्नी पत्नी त्रिलोकी, 48 वर्षीय सरस्वती पत्नी लक्ष्मण तथा 50 वर्षीय लक्ष्मण पुत्र कलन्दर सभी निवासी गुडुर को प्रभारी निरीक्षक विजय प्रताप सिंह द्वारा चोपन सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र पर उपचार हेतु भिजवा दिया गया साथ ही 45 वर्षीय लालपरी पत्नी भोला को ओबरा परियोजना चिकित्सालय में भर्ती कराया गया है। वहीं 50 वर्षीय राधे पुत्र स्व0 मुरारी तथा 42 वर्षीय भानो देवी पत्नी राधे को उनके घर भेज दिया गया। जबकि आज सुबह 76 वर्षीय प्रभावती देवी एवं 40 वर्षीय राजकुमारी देवी का शव चोपन थाना क्षेत्र के सिंदुरिया से बरामद किया गया है। आज सुबह एनडीआरएफ की टीम घटनास्थल पर पहुँच बचाव कार्य मे जुटी रही। घटना में बचाये गए यात्रियों के अनुसार नाव पर चालक अमरनाथ तथा गोरे सहित कुल 11 लोग सवार थे।

मौके पर एसडीएम सदर यमुनाधर चौहान, क्षेत्राधिकारी ओबरा भाष्कर वर्मा, ई0ओ0 नगर पंचायत ओबरा, प्रभारी निरीक्षक चोपन प्रवीण कुमार सिंह, कस्बा चौकी इंचार्ज केजी राय और पूर्व नगर पंचायत अध्यक्ष ओबरा रमेश यादव की मौजूदगी में शवों का पंचनामा भरने के पश्चात पीएम हेतु जिला अस्पताल भेज दिया गया।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!