80 साल के असहाय बृद्ध का आवास अधूरा, ठंड से बचने का कोई इन्तजाम नहीं

भास्कर चतुर्वेदी (संवाददाता)

आसनडीह/बभनी। स्थानीय विकासखंड के कोंगा ग्राम पंचायत में प्रधानमंत्री आवास अधूरा होने का मामला प्रकाश में आया है। जानकारी के मुताबिक सन 2017-18 में मिले प्रधानमंत्री आवास अधिकतर अधूरे पड़े हैं। प्रधान और सेक्रेटरी सरकार की इस महत्वाकांक्षी योजना को पलिता लगाने में ब्यस्त हैं।सभी ग्राम पंचायतों में आवास अधूरे पड़े हैं।आवासों का केवल छत ढालकर छोंड़ दिया जाता है। तथा निर्माण में मिलने वाले पन्चानवे दिन की मजदूरी जो मनरेगा से भुगतान होती है अपने चहेतों के नाम मस्टररोल भरकर उसे भी खा जा रहे हैं। पूरे विकास खण्ड में आवास व शौचालयों की स्थिति दयनीय है।अधिकारियों की मिलीभगत से ठेकेदारी कर धन की लूट मची हुई है। ग्रामीणों का मानना है कि लाभार्थियों द्वारा आवास का रुपया बैंक से निकलवा कर प्रधान जी ले लेते हैं। और आवासों को अधूरा छोड़ देते हैं इसमें प्रधान के साथ-साथ ग्राम पंचायत के सेक्रेटरी भी पूरी तरह लापरवाही रखते हैं । गांव के ही सोहर पुत्र घूरन 85 वर्ष जो कि बेहद गरीब के साथ-साथ असहाय भी है उसका आवास अधूरा छोड़ दिया गया है। ना उसमें दीवारों के होल बंद किए गए हैं ना ही दरवाजे और खिड़कियां लगाए गए हैं। दीवाल का प्लास्टर और फर्स भी अधूरा पड़ा हुआ है।सोहर ने बताया कि प्रधान जी मुझे बैंक लेकर गए थे मैं बाहर ही खड़ा था उन्होंने पैसा बैंक का निकाल लिया और मुझे ₹1000 ही दिया। बाकी अपने पास रख लिए पूरा रुपया लेने के बाद भी अभी तक मेरा आवास अधूरा दिये हैं।मैं बेहद गरीब और असहाय हूं मेरे आगे पीछे कोई नहीं है मैं किसी प्रकार अपनी जिविका को चला रहा हूं मेरे पास पहले राशन कार्ड था लेकिन मेरा राशन कार्ड भी गायब कर दिया गया है मेरे पास खाने-पीने की कोई व्यवस्था नहीं है। मेरे आवास के दरवाजे और खिड़की सब खुले हुए हैं।इस ठिठुरन में जिए तो जिए कैसे समझ नहीं आता।मैंने कई बार प्रधान जी से अपना आवास पूरा कराने के लिए कहा लेकिन मुझ असहाय पर कोई ध्यान नहीं दिया गया। इस संबंध में खंड विकास अधिकारी बभनी से पूछने पर बताया कि मुझे इसकी जानकारी नहीं है।आपके द्वारा जानकारी मिली है तो जांच कराकर प्रभावी कार्यवाही की जायेगी। उसने जिलाधिकारी का ध्यान आकृष्ट कराते हुए न्याय की गुहार लगाई है।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!