उन्नाव रेप पीड़िता की दिल्ली के सफ़दरगंज हॉस्पिटल में मौत

उन्नाव गैंगरेप की पीड़िता का दिल्ली के सफदरजंग हॉस्पिटल में निधन हो गया है । पीड़िता को एयरलिफ्ट करके लखनऊ से दिल्ली लाया गया था । पीड़िता का शरीर 90 फीसदी जल चुका था । सफदरजंग हॉस्पिटल के प्रवक्ता ने उन्नाव रेप पीड़िता के निधन की पुष्टि की है ।

पीड़िता का इलाज करने वाले डॉ शलभ ने कहा कि पीड़िता 95 फीसदी तक जल चुकी थी. उसको बचाने की पूरी कोशिश की गई थी, लेकिन उसको बचाया नहीं जा सका । सफदरजंग हॉस्पिटल के प्रवक्ता ने बताया कि उन्नाव पीड़िता ने रात 11:40 बजे अंतिम सांस ली । पीड़िता ने मरने से पहले अपने भाई से कहा था कि मैं जीना चाहती हूं । पीड़िता ने यह भी कहा था कि दोषियों को सख्त से सख्त सजा दी जानी चाहिए ।

बीजेपी प्रवक्ता अनिला सिंह ने कहा कि उन्नाव की बेटी ने अपनी आहुति दे दी । इस घटना से मैं बेहद दुखी हूं और आज उन्नाव की बेटी के लिए कुछ कहने को मेरे पास शब्द नहीं हैं । एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि मामले में लापरवाही बरतने वाले पुलिस अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी ।

गुरुवार को उन्नाव में गैंगरेप पीड़िता को पेट्रोल डालकर जिंदा जलाकर दिया गया था । इस घटना में युवती 95 फीसदी जल गई थी. ग्रामीणों ने मुताबिक 95 फीसदी जलने के बाद भी पीड़िता घटनास्थल से एक किलोमीटर तक पैदल चली थी और मदद की गुहार लगाई थी Lपीड़िता ने खुद ही 112 पर फोन किया था और पुलिस से आपबीती बताई थी ।

इससे पहले उन्नाव गैंगरेप पीड़िता की मेडिकल रिपोर्ट जारी की गई थी । रिपोर्ट के मुताबित रेप पीड़िता के शरीर पर कोई बाहरी या आंतरिक चोट नहीं मिली थी, सिर्फ जलने के साक्ष्य मिले थे। वहीं, यूपी के आईजी (लॉ एंड ऑर्डर) प्रवीण कुमार ने भी कहा था कि पीड़िता को जलाने से पहले या बाद में चाकू मारने या हिंसा की बात नहीं है ।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!