कलेक्ट्रेट सभागार में अस्थायी गोवंश आश्रय स्थल के संबंध में की बैठक

अबुलकैश डब्बल

चंदौली । जिलाधिकारी नवनीत सिंह चहल कलेक्ट्रेट सभागार में अस्थायी गोवंश आश्रय स्थल के संबंध में बैठक की। बैठक के दौरान अधिशासी अधिकारी नगर पालिका मुगलसराय द्वारा बैठक में प्रतिभाग न करने एवं कार्य में शिथिलता बरतने पर कारण बताओ नोटिस जारी करने के निर्देश मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी को दिए। अस्थाई गोवंश आश्रय स्थल पर जिन सफाई कर्मी की ड्यूटी लगी है यदि वह ड्यूटी नहीं करेंगे तो उनके खिलाफ विभागीय कार्यवाही के साथ वेतन रोकने के निर्देश जिला पंचायत राज अधिकारी को दिए। जिलाधिकारी ने सभी नोडल अधिकारियों को सख्त निर्देश देते हुए कहा कि ठंड के मौसम को दृष्टिगत जनपद के सभी अस्थाई आश्रय स्थलों एवं काजी हाउस में टिन का सेड, पर्दे,तिरपाल की व्यवस्था तत्काल सुनिश्चित करा लिया जाए। इसमें लापरवाही कत्तई न बरती जाए। इसके अतिरिक्त निराश्रित पशुओं को पर्याप्त मात्रा में चारा-पानी साथ ही बीमार पशुओं की नियमित जांच एवं इलाज की व्यवस्था सुनिश्चित किया जाए।साथ ही स्थलों की मानीटरिंग के लिए लगे अधिकारीगण नियमित निरीक्षण कर कमियों को तत्काल दूर करें, साथ ही पशुओं को किसानों/पशुपालकों को सुपुर्द कराने की भी कार्रवाई करें। पशु आश्रय स्थलों के निर्माण कार्य में लगी कार्यदाई एजेंसी को निर्देशित करते हुए कहा कि तेजी से कार्य करते हुए समय से कार्य पूर्ण कराएं जहां कहीं आवश्यकता है अतिरिक्त क्षमता के साथ मजदूर लगाकर कार्य कराएं। कठौरी में निर्माण 15 दिसंबर तक एवं नेकनामपुर 31 दिसंबर तक पूर्ण कर रिपोर्ट प्रस्तुत करें, अन्यथा विभागीय कार्यवाही सुनिश्चित की जाएगी।
श्री चहल ने सर्वानंदपुर में पशु आश्रय स्थल पर सेड की व्यवस्था सुनिश्चित नहीं होने पर जिला बचत अधिकारी को जमकर फटकार लगाई। कहा कार्य में शिथिलता हरगिज बर्दाश्त नहीं। जिलाधिकारी ने जिला पंचायत राज अधिकारी को निर्देश देते हुए कहा कि जिन जगहों पर सोलर लाइट की आवश्यकता हो वहां तत्काल लगाना सुनिश्चित करें इसमें किसी भी प्रकार की लापरवाही न बरती जाय। जिलाधिकारी ने मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी को निर्देश देते हुए कहा कि भूसा, चारा आदि के लिए सेट बनवाने के निर्देश सभी आश्रय स्थलों पर कर लिया जाए इसके साथ कर्मचारियों के लिए भी सेट की व्यवस्था सुनिश्चित हो ताकि ठंड में किसी को दिक्कत न हो पशुओं के लिए हरे चारे की बुवाई का कार्य तत्काल मुख्य चिकित्सा अधिकारी कराएं एवं पशुओं का टीकाकरण आदि का कार्य समय से करा ले । जिलाधिकारी ने बैठक के दौरान सभी अधिकारियों को सख्त निर्देश देते हुए कहा कि निराश्रित पशुओं कहीं भी छुट्टा न मिले सभी को पकड़कर आश्रय स्थलों में रखा जाए यदि किसी किसान या अन्य लोगों से शिकायत मिली तो संबंधित के खिलाफ सख्ती से पेश आया जाएगा। बैठक के दौरान मुख्य विकास अधिकारी डॉ अभय कुमार श्रीवास्तव, उप जिलाधिकारी मुगलसराय,सकलडीहा, जिला विकास अधिकारी पदमकांत शुक्ल, डीसी मनरेगा धर्मजीत सिंह, जिला विद्यालय निरीक्षक, मुख्य पशु चिकित्साधिकारी सहित खंड विकास अधिकारी एवं पशु चिकित्सा अधिकारी मौजूद थे।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!