ट्रैक्टर ट्राली पलटने से 3 दर्जन घायल

चंद्रकांत दीक्षित (संवाददाता)

सिंधौली (शाहजहांपुर) । बच्चे के नामकरण संस्कार से वापस लौट रही ट्रैक्टर ट्राली अनियंत्रित होकर खाई में पलट जाने से लगभग तीन दर्जन महिला पुरुष व बच्चे घायल हो गए, जिन्हें उपचार के लिए सिधौली अस्पताल भेजा गया जो गंभीर रूप से घायल थे उन्हें जिला अस्पताल भेज दिया गया ।
जनपद पीलीभीत के बिलसंडा थाना क्षेत्र के गांव चरखौला की महिलाएं और बच्चे सोमवार को बच्चे के नामकरण संस्कार में शामिल होने थाना सिंधौली क्षेत्र के गांव कीरतपुर मैं ट्रैक्टर ट्राली से आए थे ।
ट्रैक्टर ट्राली में लगभग 50 से 60 लोग बताए गए जिसमें पुरुष महिलाएं व बच्चे भी शामिल थे ।
मंगलवार की सुबह लगभग 9 बजे सभी लोग ट्रैक्टर ट्राली पर सवार होकर अपने गांव चरखौला के लिए रवाना हुए थे जैसे ही ट्रैक्टर ट्रॉली चढ़ारी पुल के पास पहुंचा तो ट्रैक्टर ट्राली तेज रफ्तार में होने के कारण चालक नियंत्रण खो बैठा जिससे अनियंत्रित होकर पलट गया । ट्रैक्टर ट्राली में सवार लगभग तीन दर्जन लोग गंभीर रूप से घायल हो गए जिनमें 16 लोग गंभीर रूप से घायल होने के कारण जिला अस्पताल रेफर कर दिये गये ।
चालक के नियंत्रण खो देने से ट्रैक्टर ट्राली नीचे गिरने से लोगों में चीख पुकार की आवाज होने लगी जिसने भी सुना तो घटनास्थल की ओर दौड़ पड़ा जैसे ही पुलिस को सूचना मिली तो कोतवाल इंद्रजीत सिंह भदोरिया ने पुलिस स्टाफ के साथ मौके पर पहुंचकर घायलों को उपचार के लिए एंबुलेंस से सिधौली अस्पताल भिजवाया अधिक संख्या में घायल होने के कारण एंबुलेंस पुवाया से भी बुलवानी पड़ी
प्रभारी चिकित्सा अधिकारी डॉ ओमेंद्र राठौर ने बताया 16 लोग गंभीर रूप से घायल होने के कारण जिला अस्पताल रेफर कर दिये गये ।
घायलों में लौन्गश्री पत्नी गंगाराम 45, शिवसागर 80 पुत्र बाबूराम, बुद्धो देवी पत्नी गोविंदराम 50, मंजू देवी पत्नी राजीव कुमार 35 , नन्हीं पत्नी गंगाराम 55, प्रेमचंद्र पत्नी ओमकार, अरुण पुत्र ओमकार 10, श्यामू 2, छाया देवी पुत्री बाबूराम 15, सरला देवी पत्नी सुरेंद्र 40, आशीष पुत्र सुरेश 8 वर्ष,अतुल कुमार पुत्र सत्यपाल 12 वर्ष, अनामिका देवी पुत्री सत्यपाल 9 वर्ष, गीता देवी पत्नी नन्हे लाल 40 वर्ष, विमला देवी पत्नी ओमप्रकाश 40 वर्ष, रामबेटी पत्नी नत्थू 55 वर्ष, सुशीला पत्नी ओंकार 50 वर्ष, राम जननी सुरेंद्र पाल 50 वर्ष, राजकुमारी प्रेमचंद मुन्नी रामलाल 45 वर्ष, पुत्री जमुना प्रसाद 18 वर्ष, मीरा पत्नी बाबूराम, सीमा पत्नी जमुना प्रसाद 38 वर्ष, जमुना प्रसाद 40 वर्ष, राजेश्वरी पत्नी पुत्तू लाल, रामवती पत्नी भूपराम आदि लोग उक्त दुर्घटना में घायल हो गए। दुर्घटना के समय कुछ स्त्रियों के सोने के गहने पुलिस को मिले जिसे थाना प्रभारी इंद्रजीत सिंह भदोरिया ने सीमा देवी को दे दिए और कहा जिसके भी हो उसके दे दीजिए ।
घायलों का हाल जानने के लिए सिंधौली सीएचसी पर सीओ पुवायां, एसडीएम के अलावा अन्य अस्पताल के डाक्टर व कर्मचारी मौजूद रहे।
108 व 102 एंबुलेंस के कर्मचारी सिकंदर खां, जसवंत, विवेक कुमार, मनोज कुमार, भोलानाथ आदि ने बताया जैसे ही सूचना मिली तुरंत मौके पर पहुंचकर घायलों को सिधौली अस्पताल ले आया जहां अस्पताल के स्टाफ ने तुरंत ही फर्स्ट एड दिया जो गंभीर रूप से घायल थे उन्हें जिला अस्पताल रेफर कर दिया गया ।
चरखौला निवासी सीमा देवी ने बताया अपनी बेटी पूजा की शादी 15 महीने पहले कीरतपुर निवासी मुकेश के साथ की थी बेटी के पुत्र का जन्म हुआ जिसका सोमवार को नामकरण संस्कार था उसमें गांव की महिलाएं पुरुष बच्चे ट्रैक्टर ट्राली से किरतपुर गांव आए थे वापस घर जा रहे थे तभी यह हादसा हो गया।
महिलाओं के साथ में ट्रैक्टर ट्राली से गई पुष्पा ने बताया जिस गांव में गए थे वहां अधिक संख्या में पहुंच गए उनकी खाने की व्यवस्था नहीं थी उसके बाद वहां पर विवाद हुआ । विवाद कुछ ज्यादा बढ़ जाने पर रात में ही सारे लोग ट्रैक्टर ट्राली से पड़ोस के ही गांव बबौरी चले गए थे सुबह लगभग 9 बजे घर जा रहे थे कि ट्रैक्टर ट्राली तेज रफ्तार होने के कारण यह हादसा हो गया जिसमें काफी संख्या में महिलाएं पुरुष व बच्चे घायल हो गए ।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!