भूमाफिया के खिलाफ दलित परिवार तीन दिनों से दे रहा धरना

राहुल शुक्ला (ब्यूरो)

★ धरने के दौरान एक तीन वर्षीय बालिका की हालत बिगड़ी

★ अधिकारियों के आश्वासन पर एक दिन के लिए धरना स्थगित

पुवाया (शाहजहांपुर) । थाना पुवायां अंतर्गत ग्राम गंगसरा निवासी दलित महिला माहेश्वरी पत्नी वीरपाल व गिरेश बती पत्नी सोनपाल पिछले तीन दिनों से भूमाफिया के खिलाफ कार्यवाही व गिरफ्तारी को लेकर धरने पर हैं । धरने पर बैठे परिवार वालों ने बताया कि उसके गांव में उसकी पैतृक भूमि जिसका गाटा संख्या 75 रकबा 0. 8620 हे. भूमि में से 3 बीघा जमीन पर मेड़ तोड़कर दबंग भूमाफियाओं ने कब्जा कर लिया ।जिसकी शिकायत पुवाया थाने में की गई । जिसमें पुलिस ने मुकदमा संख्या 712 अभिलेख 19 धारा 323 ,504 ,506 अभिलेख 354ख आईपीसी व 3(1)व दलित उत्पीड़न के अंतर्गत मुकदमा लिखा गया । इसके उपरांत भी आरोपित की गिरफ्तारी नहीं की गई । रिपोर्ट से बौखलाए आरोपी अनंतर सिंह यादव के ड्राइवर शैलेंद्र शुक्ला ने गाली गलौज कर जान से मारने की धमकी देते हुए उसके चरित्र पर चरित्रहीन का आरोप लगाते हुए उसको बेइज्जत किया । इसी से नाराज दलित परिवार तीन दिन से पुवायां सीओ कार्यालय के सामने धरना देना शुरू किया । आरोप यह भी है कि पहले दिन थाने में तैनात हल्का दरोगा भी अपमानित किया था ।

आज धरने के दौरान ही पीड़ित परिवार की महिला माहेश्वरी की तीन वर्षीय पुत्री आराधना बीमार हो गई जिसे पुलिस सुरक्षा में अस्पताल भेजा गया ।
इसके बाद पीड़ित महिला ने बताया कि अधिकारियों के आश्वासन पर एक दिन के लिए धरना स्थगित किया है । इस एक दिन में कार्रवाई ना होने पर लगातार धरना दिया जाएगा ।
इस संबंध में सीओ प्रवीण कुमार ने बताया कि पीड़ित परिवार की भूमि संबंधी विवाद को लेकर एसडीएम से वार्ता हुई है तथा पंजीकृत मुकदमों में जांच की जा रही है|


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!