सत्य भगवान है असत्य माया : मास्टर बाबा

कुलदीप यादव (संवाददाता)


कमालपुर । चन्दौली स्थानीय कस्बा क्षेत्र के माग़लपुर में शनिवार को यथार्थ गीता के उपदेशों को सत्संग के रूप में उपस्थित भक्तो को सुनाते स्वामी अड़गड़ानंद जी महाराज के परम् शिष्य मास्टर बाबा ने कहा की सत्य भगवान है व असत्य माया है। इस सत्य व असत्य में फंसकर मनुष्य अपने जीवन को निर्थक बना रहा है। गीता अमृत वाणी है।जिसके पढ़ने व सुनने से मनुष्य का उद्धार हो जाएगा। आगे उन्होंने कहा की माता के आदर के समान कही आदर नही मिलता । भगवान राम बन गमन के समय जब माता कौशिल्या से मिलने गए तो माता ने कहा की यह निर्णय माता व पिता दोनो का है। इस लिए वन जाने से उन्होंने राम को नही रोक पाई।माता से मिलने के बाद राम वन चले गए। माता भक्ति की प्रतीक होती है। आगे उन्होंने कहा कीरत्नावली नही होती तो तुलसी दास आज इतने बड़े सन्त नही होते। अच्छे कर्म करे सद्मार्ग अवश्य मिलेगा। यथार्थ गीता भक्त अवश्य पढ़ें साथ ही यथार्थ गीता की पुस्तक जरूर घर पर रखे। समय निकालकर एक श्लोक पढ़े। जिससे आपको शांति मिलेगी।
इस अवसर हवलदार यादव, जगमेंद्र यादव, कपिलदेव यादव, त्रिभुवन, अशोक यादव , प्यारे सिंह, साहब सिंह, सीताराम, सुदामा मौर्य, हरिहर सिंह यादव सहित अन्य भक्त उपस्थित रहे।अंत मे हजारो की सख्या में भक्तो ने प्रसाद ग्रहण किया।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!