प्रदेश सरकार शहरी गरीबों का कर रही है उत्थान

दीनदयाल शास्त्री (ब्यूरो)

पीलीभीत । उत्तर प्रदेश सरकार जहांँ गांवों के विकास के लिए विभिन्न कार्यक्रमों, योजनाओं को लागू कर ग्रामीणों का विकास कर रही है ।
वहीं दीनदयाल अन्त्योदय योजना राष्ट्रीय शहरी आजीविका मिशन योजनान्तर्गत शहरों में निवास कर रहे शहरी बेघर, पथविक्रेता अनुसूचित जाति/जनजाति, महिलाओं, अल्पसंख्यकों, विकलांगों एवं कमजोर वर्ग के लोगों का आर्थिक विकास कर रही है। सरकार का ध्येय है कि शहरों में निवास कर रहे गरीब तबके को ऊठाया जाय।
भारत सरकार द्वारा संचालित दीन दयाल अन्त्योदय योजना राष्ट्रीय शहरी आजीविका मिशन उत्तर प्रदेश में लागू है।
इस योजना में शहरी गरीबों को सशक्त आधारभूत स्तर की संस्थानों में संगठित कर, कौशल विकास में प्रशिक्षण देते हुए बाजार आधारित रोजगार प्राप्त कराना तथा आसानी से ऋण सुनिश्चित कराकर स्वरोजगार उद्यम स्थापित करने में सहायता प्रदान करना है।
इस योजना का लक्ष्य है कि शहरी गरीब परिवारों की गरीबी और जोखिम को कम करने के लिए उन्हें लाभकारी स्वरोजगार और कुशल मजदूरी रोजगार के अवसर का उपयोग करने में सक्षम बनाना है जिससे मजबूत जमीनी स्तर के निर्माण से उनकी आजीविका में स्थाई रूप से सराहनीय सुधार हो सके।
प्रदेश सरकार राष्ट्रीय शहरी आजीविका मिशन के अन्तर्गत निर्धारित मूल्यों/घटकों पर कार्य करते हुए गरीब शहरियों का विकास कर रही है।
इस योजना के सामाजिक गतिशीलता एवं संस्थागत विकास के अन्तर्गत शहरी गरीबों को गतिशील कर स्वयं सहायता समूहों एवं उनके संघों के गठन का कार्य किया जाता है। स्वयं सहायता समूहों का गठन करते हुए स्वयं सहायता समूहों को रिवाल्विंग फण्ड उपलब्ध कराया जाता है। इसके अन्तर्गत नागरिकों को बेहतर सेवायें एवं कामगारों को रोजगार उपलब्ध कराने हेतु शहरी आजीविका केन्द्रों की स्थापना भी की गई है। गठित स्वयं सहायता समूहों के सदस्यों को संबंधित क्षेत्र में प्रशिक्षण देते हुए उनकी क्षमता का निर्माण भी किया जाता है। इस योजना में कौशल विकास मिशन के अन्तर्गत चयनित कौशल प्रशिक्षण प्रदाताओं के माध्यम से कौशल प्रशिक्षण कराते हुए उन्हें सेवायोजित भी कराया जाता है।
राष्ट्रीय शहरी आजीविका मिशन के अन्तर्गत शहरी गरीबों को स्वरोजगार लघु उद्यम स्थापित करने हेतु व्यक्तिगत एवं समूह में ब्याज आधारित सब्सिडी के माध्यम से लाभार्थियों को प्रदेश सरकार ऋण भी उपलब्ध कराती है।
इस योजना के अन्तर्गत शहरी पथ विक्रेताओं को बेहतर सुविधायें उपलब्ध कराये जाने हेतु उनका सर्वे कर शहरी पथ विक्रेता प्लान, माॅडल वेंडिंग जोन परियोजनायें, विक्रय प्रमाण पत्र एवं उन्हें परिचय कार्ड आदि उपलब्ध कराये जाते हैं। प्रदेश के नगर निगम शहरों सहित कई शहरों में सर्वे के माध्यम से शहरी पथ विक्रेताओं को चिन्हित करते हुए उन्हें आवश्यक सुविधायें देने के कार्य किये जा रहे हैं। इस योजना के अन्तर्गत शहरी बेघरों हेतु सम्पूर्ण सुविधायुक्त सभी मौसमों में 24 घंटे रहने योग्य आश्रय गृहों का निर्माण एवं उच्चीकृत करते हुए उन्हें रहने की सुविधा दी जा रही है।
दीन दयाल अन्त्योदय योजना राष्ट्रीय शहरी आजीविका मिशन के अन्तर्गत शहरी, बेघर लोगों को कौशल प्रशिक्षण, रोजगार और आश्रय प्रदान करने स्वरोजगार स्थापित कराने में प्रदेश सरकार की इस योजना से पात्र लोग लाभान्वित हो रहे हैं।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!