बिजली कर्मचारियों ने शुरू किया 48 घंटे का कार्य बहिष्कार व धरना प्रदर्शन

राजेश गुप्ता (संवाददाता)

पीलीभीत । पूरे प्रदेश में पीएफ घोटाला के संबंध में 45000 बिजली कर्मचारियों का 48 घंटे का कार्य बहिष्कार धरना प्रदर्शन किया जा रहा है । इसी क्रम में आज जनपद पीलीभीत में बिजली कर्मचारियों के द्वारा धरना प्रदर्शन किया गया है तथा मीडिया को जारी किए गए प्रेस नोट के आधार पर बिजली कर्मचारियों ने अपनी समस्याएं बताई हैं। बिजली कर्मचारियों ने बताया कि विद्युत कर्मचारी संयुक्त संघर्ष समिति के आवाहन पर पीलीभीत जिला मुख्यालय पर समस्त अधिकारी एवं कर्मचारियों ने प्रातः 8 बजे से 48 घंटे का कार्य बहिष्कार प्रारंभ कर दिया है।विद्युत कर्मचारियों ने अपनी गाढ़ी कमाई से अपने व अपने परिवार के भविष्य के लिए जमा की गई धनराशि पर दिनदहाड़े डाका पड़ने व उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा असंवेदनशील रवैया दिखाते हुए इसके गबन से पल्ला झाड़ने पर बिजली कर्मचारियों में अत्याधिक रोष ब कुंठा की भावना उत्पन्न हो रही है।बिजली कर्मचारी अपने परिवार के भविष्य को लेकर अत्याधिक चिंतित हैं। धरना देते हुए बिजली कर्मचारियों ने सरकार से मांग करते हुए मीडिया को आगे बताया है।

1–जी0पी0एफ और सी0पी0एफ के भुगतान का उत्तरदायित्व उत्तर प्रदेश सरकार से लें और इसका गजट नोटिफिकेशन जारी करें।
2- घोटाले के दोषी आईएएस अधिकारियों को बर्खास्त कर उन्हें गिरफ्तार करें।
3- जी0पी0एफ0 और सी0पी0एफ0 निवेश के संबंध में सरकार श्वेत पत्र जारी करे। पीलीभीत मुख्यालय पर आयोजित बिजली विभाग के धरना प्रदर्शन के दौरान इंजीनियर सैयद अब्बास रिजवी (अधीक्षणअभियंता), इंजीनियर असीम निगम(अधिशासी अभियंता वितरण पीलीभीत) सहित जिले के सभी उपखंड अधिकारी तथा बिजली कर्मचारी उपस्थित रहे।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!