दुष्कर्म के मामले में फांसी की सजा

6 साल की मासूम बच्ची के साथ गैंग रेप व हत्या के मामले में दो आरोपियों को फांसी की सजा स्पेशल पॉक्सो कोर्ट ने सुनाई सजा। प्रकाश में आए 2 आरोपियों की अलग हुई पत्रावली । हाईकोर्ट के स्टे ऑर्डर पर है दोनों आरोपी। आरोपी संतोष नट व तेजपाल नट को हुई फांसी की सजा। अलग-अलग धाराओं में स्पेशल पॉक्सो कोर्ट ने सुनाई सजा। 302 में फांसी की सजा।पचास-पचास हजार रुपये का जुर्माना। 376a व 376 डी में उम्र कैद 25-25 हज़ार का जुर्माना। धारा 377 में उम्र कैद 25 -25 हज़ार रुपये का जुर्माना।धारा 201 में 7 साल साल की सजा। 10-10 हज़ार रुपये का जुर्माना। जुर्माने की आधी राशि मिलेगी मृतका मासूम बच्ची के परिजनों को। 11 नवंबर 2014 को शाम 6:00 बजे दोनों आरोपियों ने गैंग रेप के बाद मासूम की कर दी थी हत्या।लाश को छिपाया था गड्ढे में। कोतवाली बीकापुर के भोजई का पुरवा चौरे चंदौली गांव का मामला। शासकीय अधिवक्ता विनोद उपाध्याय व वीरेंद्र मौर्य ने की पैरवी।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!