धानापुर के विकास के लिए किया गया मंत्रणा

अबुलकैश डब्बल

चंदौली । धानापुर विकास मंच की आवश्यक बैठक शनिवार को प्रातः 11 बजे से बीरासराय गांव स्थित नवनागर सिंह के आवास पर हुई। जिसमें धानापुर को तहसील और नगवां चोचकपुर गंगा घाट पर पक्कापुल के निर्माण की मांग सहित डबरिया में नवीन पीएचसी के निर्माण के प्रस्ताव पर चर्चा हुई।
बैठक को सम्बोधित करते हुए डीवीएम संयोजक गोविंद उपाध्याय ने कहा कि धानापुर को अतिशीघ्र तहसील सृजित करते हुए अब तक राजस्व परिषद की अधिसूचना जारी हो जानी जानी चाहिए थी। लेकिन ऐसा नहीं हुआ। जबकि क्षेत्रीय सांसद एवं पूर्व भाजपा प्रदेश अध्यक्ष डॉ महेंद्र नाथ पांडेय और सैयदराजा विधायक सुशील सिंह ने लोकसभा चुनाव से पहले ही बुद्धपुर गांव में आयोजित एक सार्वजनिक समारोह के दौरान लोगों को यह भरोसा दिया था कि चुनाव बीतने के बाद वे लोग दोनों ही कार्यो का शिलान्यास करेंगे। किंतु अफसोस यह है कि चुनाव बीते छह माह का वक्त गुजर गया। और इन दोनों नेताओं ने इस मामले में अब तक कोई पहल तक नहीं किया। जिसे लेकर अब आम जनता में उनके प्रति निराशा एवं असंतोष जनित आक्रोश बढ़ता जा रहा है। श्री उपाध्याय ने कहा कि क्षेत्रीय जनता की ओर से डीवीएम की मांग है कि सांसद विधायक धानापुर को तहसील बनाने के लिए स्वयं आगे आएं। और जनता से किया वायदे को पूरा करें। अध्यक्ष कमलाकांत मिश्र ने कहा कि महुंजी से धानापुर के बीच तकरीबन 20 किमी के बीच मे कोई अस्पताल नहीं है। जिससे यहां के लोगों को इलाज के लिए सुदूर कहीं अन्यत्र जाना पड़ता है। बेहतर होता यदि डबरिया में एक सरकारी स्वास्थ्य केंद्र का निर्माण हो जाये।

बैठक में हरबंस सिंह पुन्नू, राजेश तिवारी, नवनागर सिंह, राज किशोर सिंह, डब्लू तिवारी, ध्रुव नारायण सिंह, गंगाधर तिवारी, राम चन्दर उपाध्याय, प्रकाश राम, शशि कांत तिवारी, वीरेंद्र सिंह, महेंद्र यादव, गुड्डू यादव, अवधेश राम, सन्तोष यादव, दयाशंकर तिवारी, विभूति प्रसाद, साहब मौर्य, उमाशंकर पांडेय, घुरफेंक विश्वकर्मा, फतउल इस्लाम, रामबिलास पांडेय, राजेश सिंह, अखिलेश सिंह आदि अन्य लोग शामिल रहे। बैठक की अध्यक्षता गंगाधर तिवारी एवं संचालन डॉ राम अनुज यादव ने किया।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!