ईद-ए-मिलाद-उन-नबी पर बभनी में निकाला गया जुलूस, मांगी गई देश के अमन चैन की दुआ

ख़्वाजा खान (संवाददाता)

बभनी। ईद-ए-मिलाद-उन-नबी बभनी समेत जिले भर में काफी जोश और उत्साह के साथ मनाया गया। बभनी क्षेत्र के बभनी चपकी,बचरा समेत क्षेत्र के अलग-अलग स्थानों से जुलूस निकाला गया। जुलूस में समाज को शांति और सद्भावना का पैगाम दिया गया। क्षेत्र के बाजारों और चौक-चौराहों को बेहतर ढंग से सजाया गया था। जवान से लेकर बच्चे तक जुलूस में शामिल हुए। हर जगह जुलूस में शामिल लोगों के लिए कई सामाजिक संगठनों द्वारा शरबत, हलवा,फल -फूल,चना जलेबी आदि का स्टाल भी लगाया गया था। साथ ही प्रशासन द्वारा सुरक्षा के पुख्ता प्रबंध भी किए गए थे। बभनी थानाध्यक्ष अविनाश चन्द सिन्हा ने भी जुलूस का जायजा लिया। हर चौक चौराहों पर पुलिस बल तैनात दिखे। इधर, हिन्दू -मुस्लिम दोनों धर्मो के लोग एक-दुसरे को ईद-ए-मिलाद-उन-नबी की मुबारकबाद देते हुए सद्भावना का परिचय दिये। वहीं जुलूस में पैदल व वाहनों पर सवार बच्चे आकर्षण का केंद्र रहे। कई युवक हरे रंग के परचम थामे हुए थे। सड़कों पर नातिया कव्वाली व सूफियाना नगमे बज रहे थे। बभनी मदरसे से शुरू हुआ जुलूस बाजार टोला होते हुआ पुद्दी टोला,सड़क टोला,चुनिया टोला बभनी चौक पहुँची वहा लोगों द्वारा सलाम पढ़ गया।

बचरा अंजुमन रज़ाये मुस्तफ़ा का जुलुस बरवाटोला मस्ज़िद से उठ कर बचरा बाजार होते हुए चपकी मदरसे तक गया वहां से चपकी के जुलुस को साथ लेकर घूमता हुआ वापस बचरा आया।

वही बाईक जुलुस में सामील सैकड़ो की संख्या में बच्चे नवजवान नारे ततबीर व नारे रिसालत का नारा बुलंद करते हुए जमाल हुसैन के दरवाजे पे पहुंचे हर साल की भांति इस वर्ष भी जमाल साहब के दरवाजे पे तबर्रुक के तौर पे नास्ता कराया गया वहां से बचरा चपकी का बाईक जुलुस बभनी क़स्बा पहुँचा जहां से बभनी के बाईक जुलुस के साथ बाइक रैली निकाली गई।बाइक रैली बभनी से प्रारम्भ होकर बड़होर चपकी बचरा,बरवाटोला,डुमरहर होते हुए करमघट्टी पहुँची वहाँ से वापस बभनी पहुँच सम्पन्न हुई।
इस्लाम धर्म के प्रवर्तक हजरत मोहम्मद स0अ0व्0साहब के जन्मदिन पर मनाये जाने वाले बारह रविअव्वल यानि ईद मिलादुन्नबी के मौके पर शनिवार को बभनी क्षेत्र के मस्जिदों में कुरानखानी सह मिलादुन्नबी का आयोजन भी किया गया।
इस मौके पर अंजुमन कमेटी के मुहम्मद अनवर,डाक्टर इम्तियाज,फरीदुद्दीन,युवा समिति के अध्यक्ष डा० हिरालाल,विशाल जायसवाल,बरूण,महेन्द्र,इकराम अहमद,ख्वाजा खान, अब्दुल कलाम सहित पुरे क्षेत्र के मुस्लिम बन्धु काफी संख्या में मौजूद रहे।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!