कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने किया ट्वीट, पूछा – क्या बाबरी मस्जिद तोड़ने वालों को सजा मिल पाएगी

सुप्रीम कोर्ट के द्वारा अयोध्या के रामजन्मभूमि-बाबरी मस्जिद विवाद पर फैसला आने के बाद राजनीतिक दलों और नेताओं की प्रतिक्रिया आ रहा है । कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने भी ट्वीट कर सुप्रीम कोर्ट के फैसले का स्वागत किया है, लेकिन उन्होंने इसी के साथ एक सवाल भी पूछ लिया है । दिग्विजय ने लिखा कि SC ने बाबरी मस्जिद तोड़े जाने को गैरकानूनी बताया है, ऐसे में क्या अब दोषियों को सजा मिल पाएगी?
कांग्रेस के वरिष्ठ नेता एवं मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह का रविवार को बाबरी मस्जिद को लेकर किया गया ट्वीट चर्चाओं में आ गया। आपको बता दें कि अयोध्या में विवादित ढांचे को ढहाए जाने के आपराधिक मामले में अप्रैल 2020 तक अदालत का फैसला आ सकता है। लखनऊ में सीबीआई की विशेष अदालत (अयोध्या प्रकरण) में इस मामले की सुनवाई रोजाना हो रही है। बीते 11 अक्टूबर को इस मामले की सुनवाई में तेजी लाते हुए विशेष अदालत ने अभियोजन को रोजाना चार गवाहों को समन जारी करने का आदेश दिया था।

कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने अपने ट्वीट में लिखा, ‘राम जन्मभूमि के निर्णय का सभी ने सम्मान किया हम आभारी हैं । कांग्रेस ने हमेशा से यही कहा था हर विवाद का हल संविधान द्वारा स्थापित कानून व नियमों के दायरे में ही खोजना चाहिए । विध्वंस और हिंसा का रास्ता किसी के हित में नहीं है ।

दिग्विजय ने अगले ट्वीट में लिखा, ‘माननीय उच्चतम न्यायालय ने रामजन्म भूमि फैसले में बाबरी मस्जिद को तोड़ने के कृत्य को ग़ैर क़ानूनी अपराध माना है । क्या दोषियों को सजा मिल पाएगी? देखते हैं, 27 साल हो गए ।

दिग्विजय सिंह से पहले कांग्रेस की ओर से भी अयोध्या मामले पर बयान दिया गया था । कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने सुप्रीम कोर्ट के फैसले का स्वागत किया था और लोगों से शांतिपूर्ण स्वीकारने की अपील की थी ।

आपको बता दें कि सुप्रीम कोर्ट ने शनिवार को जो फैसला दिया उसमें इस बात का जिक्र था । अपने फैसले में सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि 1934 में मस्जिद को नुकसान पहुंचाना, 1949 में अपवित्र करना और 1992 में मस्जिद को गिराना कानून का उल्लंघन था । इसी पर अब दिग्विजय सिंह ने सवाल किया है।

गौरतलब है कि 6 दिसंबर 1992 को बड़ी संख्या में कारसेवकों ने बाबरी मस्जिद के ढांचे को गिरा दिया था। इस मामले में कई नेताओं के खिलाफ ट्रायल भी चल रहा है, जिनमें बीजेपी नेता लालकृष्ण आडवाणी समेत अन्य 13 का नाम शामिल है । मामले में चार्जशीट दाखिल हो चुकी है और ट्रायल चल रहा है, लेकिन फैसला आना अभी बाकी है ।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!