श्रीमद् भागवत महापुराण कथा के द्वितीय दिन भागवत प्रेमियों ने कथा का किया श्रवण

घनश्याम पाण्डेय/विनीत शर्मा (संवाददाता)

चोपन । सिंदुरिया गांव में बाबा दूधनाथ मंदिर के प्रांगण में आयोजित श्रीमद् भागवत महापुराण कथा के द्वितीय दिवस कथा व्यास श्री बाल व्यास शारदानंद जी महाराज ने मुख्य यजमान हनुमान प्रसाद पाण्डेय व पाण्डेय परिवार के सभी बाल वृद्ध नारी व क्षेत्र के गांव से पधारे भागवत प्रेमियों को कथा श्रवण कराते

हुए बोले की श्रीमद् भागवत को प्रथम प्रवक्ता स्वयं श्री नारायण के मुख से निकलते हुए वाड़ी को श्रीमद् भागवत कहते हैं श्रीमद् भागवत भारती वाक्य का मुकुट मणि है भगवान सुखदेव द्वारा महाराज परीक्षित को सुनाया गया भक्ति मार्ग ही है इसके हर श्लोक में श्री कृष्ण प्रेम की सुगंधित है इसमें साधन ज्ञान सिद्ध ज्ञान साधन भक्ति सिद्ध भक्ति मर्यादा मार्ग अनुग्रह मार्ग अच्देत संबंध के साथ प्रेरणादाई विविधउपास्थानों का अद् भूद संग्रह है श्री मद भागवत कथा श्री नारायण के मुख से निकलते हुए ग्रंथों श्रीमद् भागवत कहते हैं।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!