तीस हजारी कोर्ट की घटना को लेकर वकील हड़ताल पर रहे, ज्ञापन सौंपा

कुलदीप कुमार चौरसिया (संवाददाता)

निघासन (खीरी) । सोमवार को निघासन तहसील के वकील हड़ताल पर रहे । घटना को लेकर वकीलों ने राष्ट्रपति को संबोधित ज्ञापन नायब तहसीलदार को सौंपा ।
सोमवार को निघासन तहसील के अधिवक्ता भवन में मीटिंग की गई जिसमें दिल्ली की तीस हजारी कोर्ट में पुलिस ने वकीलों पर गोली चला दी थी । वकील व पुलिस विवाद में तीन वकीलों को गोली लगी । कई वकील घायल हुए हैं । कानपुर में वकीलों के खिलाफ दर्ज किये गए फर्जी मुकदमा को वापस लेने की मांग की गई । घटना की निष्पक्ष जांच हाइकोर्ट के जज से कराने की मांग की साथ में घायल वकीलों को बीस लाख रुपये देने के साथ परिवार को सुरक्षा दी जाय । साथ मे वकीलों की सुरक्षा के लिये अधिवक्ता संरक्षण अधिनियम लागू किया जाय । उत्तर प्रदेश में वकीलों पर हो रहे हमला व हत्या पर रोक लगाने के लिये प्रदेश सरकार को उचित कदम उठाने की मांग की । ज्ञापन नायब तहसीलदार अनिल सोनकर को सौंपा ।वकील पूरी तरह से हड़ताल पर रहे । इस दौरान उपाध्यक्ष अम्बरीष श्रीवास्तव मंत्री रवि गुप्ता , जगमोहन लाल यादव, रमेश, राजू गिरि, सर्वेश गुप्ता,उमाकांत जायसवाल, चंदप्रकाश,महेश पाण्डे, शकील, उपेंद्र, हरिनंदन लाल यादव, राकेश वैश्य व राहुल गुप्ता आदि मौजूद रहे।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!