गोंडवाना गणतंत्र पार्टी का एक दिवसीय धरना प्रदर्शन,आदिवासियों के उपेक्षा का लगाया आरोप

रमेश यादव(संवाददाता)

दुद्धी । गोंडवाना गणतंत्र पार्टी के तत्वावधान में बुधवार को तहसील प्रांगण में पार्टी के पदाधिकारियों एवं कार्यकर्ताओं के द्वारा एक दिवसीय धरना प्रदर्शन किया गया। धरना प्रदर्शन के माध्यम से एक ग्यारह सूत्रीय मांग पत्र उप जिला अधिकारी के द्वारा प्रधानमंत्री एवं मुख्यमंत्री के नाम सम्बोधित ज्ञापन सौंपा गया ।कार्यक्रम के मुख्य अतिथि अशर्फी सिंह परस्ते राष्ट्रीय संगठन मंत्री ने धरना प्रदर्शन को संबोधित करते हुए कहा कि वनाधिकार अधिनियम को गांव स्तर से ब्लॉक स्तर तहसील स्तर से जिला स्तर के माध्यम से चौपाल लगाकर अभियोग प्रमाण पत्र दिया जाए।

यह भी कहा कि जो आदिवासी जनजाति मूलनिवासी समाज जिस भूमि पर अनादि काल से बसा हुआ है और जोत कोड कर रहा है उस परिवार को जीवन यापन के लिए उस भूमि पर नाम दर्ज करके संक्रमणीय भूमिधर घोषित किया जाए ।वहीं विशिष्ट अतिथि रामाशंकर सिंह पोया प्रदेश उपाध्यक्ष ने कहा कि उत्तर प्रदेश में महंगाई चरम सीमा पर है जिससे किसानों को गैस सिलेंडर ,डीजल, बिजली पानी, खाद ,बीज ,दवा ,कृषि यंत्र उपलब्ध नहीं हो पा रही है। कार्यक्रम में उपस्थित गोंडवाना गणतंत्र पार्टी के जिला अध्यक्ष रामनरेश खोया ने कहा कि आदिवासियों के साथ शोषण अत्याचार हो रहा है जिसे कभी बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।

इस जन आंदोलन के माध्यम से भारत सरकार और उत्तर प्रदेश सरकार को अवगत कराना चाहते हैं कि दुद्धि क्षेत्र के विकास के लिए दुद्धि को जिला बनाया जाना आवश्यक है। कार्यक्रम संयोजक जिला संगठन मंत्री हीरालाल जी ने कहा कि जिला सोनभद्र में अवैध खनन हो रहा है उस पर तत्काल रोक लगाई जाए। इस दौरान प्रदेश सचिव रामसिंह पोया, जिला महामंत्री शिवप्रसाद ,लोकसभा प्रभारी धर्मेंद्र पासवान ,प्रदेश संगठन मंत्री कैलाश नाथ प्रजापति ,जिला महासचिव रामचंद्र, जिला कार्यकारिणी संरक्षक रामरति, जिला कोषाध्यक्ष रामकुमार, अमर खरवार ,रामधनी कोर्चो ,देवा सिंह उईके सहित काफी संख्या में पार्टी के पदाधिकारी एवं कार्यकर्ता मौजूद रहे ।कार्यक्रम का संचालन जिला उपाध्यक्ष हरिप्रसाद सलवन्दी ने किया ।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!