दबिश देने गई पुलिस टीम पर हमला करने का मामला, 15 नामज़द और डेढ़ सौ अज्ञात के ख़िलाफ़ FIR दर्ज

वाराणसी जंसा थाना क्षेत्र के हरसोस गाँव में दबिश देने गई पुलिस टीम पर ग्रामीणों के द्वारा हमला मामले में पुलिस ने 15 नामज़द और डेढ़ सौ अज्ञात के ख़िलाफ़ IPC की एक दर्जन धाराओं में मुक़दमा दर्ज किया ! पुलिस टीम पर हमले के आरोपियों में क़रीब एक दर्जन नाबालिग बच्चे भी शामिल ! पुलिस कार्यवाही में बारह नामज़द और 56 अज्ञात आरोपीयों को हिरासत में लिया गया ! पुलिस ने क्राइम ब्रांच के दरोग़ा की छीनी हुई सर्विस पिस्टल गाँव के नाले से बरामद किया है ।
बता दें जौनपुर पर गोलीमार कर लूट के आरोपी राजन भारद्वाज को गिरफ्तार करने सोमवार की रात को गयी जौनपुर क्राइम ब्रांच की टीम खुद मॉब लींचीग का शिकार हो गयी ! दरअसल मुख्य आरोपी राजन भारद्वाज और उसके चचेरे भाई राहुल भारद्वाज को हिरासत में ले जाते समय मुख्य आरोपी का चचेरा भाई हाथ छुड़ाकर भाग निकला और पूरे गाँव में आपको आप फैला दी कि कुछ लोग राजन का अपहरण करके ले जा रहे हैं तो फिर गाँव वालों ने पीछा कर क्राइम ब्रांच के दरोग़ा बालेन्द्र यादव सिपाही वेद प्रकाश राय और कौशल को पकड़ लिया और भीड़ में बाँध कर पीटने के बाद दरोग़ा की सर्विस पिस्टल और तीनों की मोबाइल छीन ली ! जिसके बाद घटनास्थल पर पहुँची पुलिस टीम पर ग्रामीणों ने पथराव शुरू कर दिया जिसमें जन्सा थाने के इंस्पेक्टर परशुराम त्रिपाठी भी घायल हो गए , इस हमले मे पीआरबी जवानों और कई सिपाहियों को भी चोट लगी ! बाद में वाराणसी और जौनपुर के आलाधिकारीयों ने भारी फ़ोर्स के साथ गाँव में पहुंचकर हालात को क़ाबू किया ! वहीं गाँव की महिलाओं ने पुलिस पर दुर्व्यवहार का आरोप लगाया है !


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!