शिलान्यास के 7 माह बाद भी गौशाला की जमीन से नहीं हट सका कब्जा, आवारा पशुओं से किसानों की नींद हराम

रिविन शुक्ला (संवाददाता)

बिलसंडा (पीलीभीत) । ब्लॉक क्षेत्र के गांव मरौरीखास में गौशाला निर्माण की जमीन चिन्हित की गई थी। जिसका क्षेत्रीय विधायक रामसरन वर्मा द्वारा शिलान्यास भी कर दिया गया । जिसके बाद हिन्दू युवा वाहिनी के जिलाध्यक्ष ठाकुर मनीष सिंह द्वारा गौशाला की चिन्हित जमीन को देखा गया था और उस पर अवैध कब्जा को हटवाने के लिए उपजिलाधिकारी बीसलपुर को अवगत भी कराया गया था । जिसके बाद एसडीएम ने हल्का लेखपाल के बाद तहसील की टीम से भी मौका मुवायना कराया था । जहां पर तहसील की टीम को गौशाला निर्माण की जमीन पर धान की फसल के साथ ही अवैध कब्जा मिला था ।

वावजूद इसके 4 मार्च 2019 को शिलान्यास के इतने दिनों बाद भी कब्जा खाली नहीं कराया जा सका ।

जबकि मारौरी खास के पवन सक्सेना, हरद्वारी लाल व विपिन शुक्ला का कहना है कि गौशाला के निर्माण न होने के कारण ग्रामीणों को आवारा पशुओं से फसलों को काफी नुकसान पहुंच रहा है । अगर गौशाला का निर्माण हो गया होता तो आवारा पशु गौशाला में सुरक्षित होते साथ ही ग्रामीण किसान भी चैन की नींद सोता। ग्रामीणों के कहना है कि एक व्यक्ति द्वारा किये गए कब्जे के चलते क्षेत्र के हजारों लोगों को आवारा पशुओं से फसलों को नुकसान हो रहा। वही विधायक ने कहा है कि धान की फसल कटने के बाद ही गौशाला निर्माण कार्य शुरू किया जाएगा।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!