अधिवक्ताओं ने की वरिष्ठ कोषाधिकारी की स्थानांतरण की मांग

रमेश यादव(संवाददाता)

दुद्धी । उप कोषागार दुद्धी को स्टाम्प न उपलब्ध कराने व दुद्धी से उप कोषागार को हटाए जाने की संस्तुति के मामले में दुद्धी बार संघ के अध्यक्ष कुलभुषण पाण्डेय ने अपर निदेशक कोषागार एवं पेंशन विन्ध्याचल मण्डल को पत्र भेजकर वरिष्ठ कोषाधिकारी की स्थानांतरण की मांग किया है। अधिवक्ताओं का आरोप है कि जिले से वरिष्ठ कोषाधिकारी द्वारा दुद्धी उप कोषागार को कम स्टाम्प भेजी जाती हैं ताकि स्टाम्प वेंडर मेरे यहां आकर स्टाम्प खरीदीं करें तो एक मोटी कमीशन मिलेगी इसलिए मोटी कमीशन के चक्कर में दुद्धि उप कोषागार को स्टाम्प उपलब्ध नहीं कराया जाता है फिर भी दुद्धी में लगभग हर साल 15 करोड़ रुपये से अधिक की रजिस्ट्री होती हैं लेकिन कोषाधिकारी सोनभद्र द्वारा स्टाम्प कम बिक्री होने की सूचना शासन को भेजी गई है क्योंकि जब दुद्धी उप कोषागार को लगभग पांच करोड़ स्टाम्प भेजी गई थी जो सब बिक गई इसलिए दुद्धी उप कोषागार से स्टाम्प नही मिलने की स्थिति में वेंडरों तथा वादकारियों द्वारा जिला कोषागार से स्टाम्प लाया जाता था ।

उन्होंने आरोप लगाया कि अगर दुद्धी उप कोषागार को भरपूर मात्रा में स्टाम्प उपलब्ध कराया जाए तो कम से कम 15 करोड़ रुपये की स्टाम्प बिक्री अवश्य होगी।चूंकि दुद्धी से जिला मुख्यालय की दुरी भी लगभग सौ किलोमीटर के आस पास पड़ती है ऐसे में मुख्यालय आने जाने में काफी खर्च भी पड़ते हैं।हालांकि जिला अधिकारी ने अग्रिम आदेश तक दुद्धी उप कोषागार को यथावत रखने के आदेश जारी कर दिए हैं ।दुद्धी बार संघ के अध्यक्ष कुलभुषण पाण्डेय ने अपर निदेशक को भेजे पत्र में जिला वरिष्ठ कोषाधिकारी तत्काल स्थानांतरण करते हुए कमीशनखोरी की निष्पक्ष जांच करते हैं कार्यवाई की मांग किया है।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!