विराट कोहली भारत के लिए सबसे अधिक दोहरे शतक लगाने वाले खिलाड़ी बने

भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली ने दक्षिण अफ्रीका के साथ यहां जारी दूसरे टेस्ट मैच के दूसरे दिन शुक्रवार को अपना दोहरा शतक पूरा किया। इसी के साथ कोहली ने 7000 टेस्ट रन भी पूरे कर लिए । कोहली के करियर का यह सातवां दोहरा शतक है । वह भारत के लिए सबसे अधिक दोहरे शतक लगाने वाले खिलाड़ी बन गए हैं ।टेस्ट क्रिकेट में दोहरा शतक लगाने के मामले में कोहली ने सचिन तेंदुलकर और वीरेंद्र सहवाग जैसे महान भारतीय खिलाड़ियों को पीछे छोड़ दिया है। तेंदुलकर और सहवाग के नाम टेस्ट में छह-छह दोहरे शतक हैं।वैसे वैश्विक रिकार्ड की बात करें तो टेस्ट में सबसे ज्यादा दोहरे शतक आस्ट्रेलिया के सर डॉन ब्रैडमन के नाम हैं। ब्रैडमैन ने कुल 12 दाहरे शतक जड़े हैं ।इसके अलावा कोहली सात हजार टेस्ट रन बनाने वाले भारत के सातवें बल्लेबाज बने । कोहली के अलावा सचिन तेंदुलकर (15921), राहुल द्रविड़ (13265), सुनील गावस्कर (10122), वीवीएस लक्ष्मण (8781), वीरेंद्र सहवाग (8503) और सौरव गांगुली (7212) ने सात हजार से अधिक रन बनाए हैं ।अपनी इसी पारी के दौरान कोहली ने भारत के सबसे सफल बल्लेबाजों में से एक दिलीप वेंगसरकर (6868) को पीछे छोड़ा ।यही नहीं, कोहली ने अपना शतक पूरा करते ही एक और कीर्तिमान अपने नाम किया । वह 40 अंतर्राष्ट्रीय शतक लगाने वाले भारतीय क्रिकेट टीम के पहले कप्तान बन गए हैं ।विराट ने अपने टेस्ट करियर का 26वां शतक पूरा करते ही कप्तान के तौर पर 19वां टेस्ट शतक पूरा किया । उनके नाम कप्तान के रूप में वनडे क्रिकेट में 21 शतक हैं ।इस मामले में आस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान रिकी पॉटिंग सबसे आगे है। उनके नाम अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में कप्तान के रूप में कुल 41 शतक हैं. दक्षिण अफ्रीका के पूर्व कप्तान ग्रेम स्मिथ 33 शतकों के साथ इस सूची में तीसरे नंबर पर हैं ।कोहली ने हालांकि, इस दमदार पारी के दम पर कप्तान के रूप में शतक जड़ने के मामले में टेस्ट क्रिकेट में पॉटिंग के रिकॉर्ड की बराबरी कर ली है । पॉटिंग ने भी कप्तान के रूप मे अपने करियर में कुल 19 टेस्ट शतक जड़े थे ।दोनों खिलाड़ी संयुक्त रूप से अब दूसरे पायदान पर काबिज है ।टेस्ट में कप्तान के रूप में सबसे अधिक शतक लगाने का रिकॉर्ड स्मिथ (25) के नाम है ।30 वर्षीय कोहली पारी के आधार पर सबसे तेज 26 टेस्ट शतक लगाने के मामले में चौथे नंबर पर भी पहुंच गए हैं । उन्होंने इस प्रक्रिया में सुनील गावस्कर को पछाड़ा । कोहली को 26 शतक लगाने में 138 पारियां लगी जबकि गावस्कर ने इस काम को करने के लिए 144 पारियां ली थीं ।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!