चोपन में श्री राम लीला-लक्ष्मण ने काटी सूर्पनखा की नाक

घनश्याम पाण्डेय/विनीत शर्मा(संवाददाता)

चोपन ।स्थानीय रामलीला मैदान में चल रहे रामलीला मंचन के सातवे दिन प्रभु श्री राम , केवट संवाद ,वाल्मीकि जी द्वारा बताये गये जगह चित्रकूट में प्रस्थान, व लक्ष्मण जी द्वारा रावण की बहन सुपर्नखा की नाक विच्छेदन का मंचन आदर्श रामलीला कला मंडल मैहर सतना मध्य प्रदेश से आए हुए कलाकारों ने भावपूर्ण मंचन किया। मंचन में सबसे पहले कलाकारों ने केवट श्रीराम का संवाद किया उसके पश्चात राम जी ने नदी पार कर वन में पहुचते है और वहां अपना कुटिया बना लेते हैं फिर वहा पर सुपर्नखा सुंदर कन्या का रूप धारण कर श्रीराम से विवाह करने की हट करने लगती है जिससे क्रोध में आकर लक्ष्मण ने राक्षसी सूर्पनखा की नाक को काट देते हैं। वह अपनी कटी नाक लेकर भाई खर और दूषण के पास जाती है। वह दोनों प्रभु श्रीराम से युद्ध करने के लिए आते हैं।

खर-दूषण प्रभु श्रीराम के वाणों से मोक्ष को प्राप्त करते हैं।तत्पश्चात सुपर्नखा भाई रावण के पास अपनी पूरी गाथा बतलाती है जहाँ रावण यह बात सुनकर बौखला जाता है । इस प्रकार सुन्दर संवाद से कालाकारों ने सभी को भावविभोर कर दिया। इस मौके पर रमेश गुप्ता, संजय जैन,सत्य प्रकाश तिवारी, धर्मेंद्र जायसवाल, रोशन सिंह,वही आयोजन समिति के अध्यक्ष सुनील सिंह ,उपाध्यक्ष सुरेश जायसवाल, महामंत्री मनोज सिंह सोलंकी, कोषाध्यक्ष राजेश गोस्वामी, शुशील पाण्डेय, अनिल जायसवाल, राहुल शर्मा, रिन्कू अग्रहरि ,आदि लोग मौजूद रहे।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!