यदि आपका बिजली बिल बकाया है तो नहीं हो सकेंगे यह सरकारी काम

रमेश कुमार यादव (संवाददाता)

दुद्धी । अगर आपके घर का बिजली बिल बकाया है तो आप निश्चिंत मत बैठे क्योंकि अब आपको जाति, आय, निवास, जन्म-मृत्यु प्रमाण पत्र सहित अन्य कई प्रमाण पत्र नहीं बन पाएगा। एक अक्टूबर से प्रमाण पत्र आवेदन के साथ आवेदक को बिजली बिल की अंतिम भुगतान की रसीद लगानी होगी।
उल्लेखनीय है कि बिजली महकमे का जिले में करोड़ों रुपये का बकाया पड़ा हुआ है। नोटिस भेजने और बिजली काटने के बाद भी लोग बकाया जमा नहीं कर रहे हैं। काफी लोगों की आरसी भी निकाल दी गई है। तब भी यही हाल है। इससे निगम के पास राजस्व की कमी आ रही है। अब बिजली महकमा बकाया का हासिल करने के लिए सरकारी मशीनरी का सहारा लेगा।बिजली विभाग के एक्सियन ने डीएम को पत्र लिखकर सभी तरह के प्रमाण पत्र जारी होने पर बिजली बिल भुगतान की अंतिम रसीद संलग्न करना अनिवार्य कराने के लिए आग्रह किया है ताकि यह नियम अक्तूबर माह से लागू हो सके।बिजली विभाग के आग्रह पर जिला अधिकारी ने आदेश जारी कर एक अक्टूबर से प्रमाण पत्र बनवाने के बिजली बिल लगाने का आदेश जारी किया गया है।

यह देना होगा प्रमाण पत्र-

राज्य सरकार द्वारा जन सुविधा केंद्रों तहसील, कलेक्ट्रेट विभिन्न विभागों के माध्यम से आमजन को दी जाने वाली सेवाओं का प्रार्थना पत्र प्रस्तुत करते समय आवेदकों को प्रार्थना पत्र के साथ यह प्रमाण पत्र भी देना होगा। इसमें लिखा हुआ होगा कि आवेदक द्वारा या उसके परिजन जिसके नाम से आवास भवन है बिजली का बिल प्रार्थना पत्र प्रस्तुति से पूर्व जमा कर दिया है। इस मामले में एक्सियन ने डीएम साहब को पत्र लिखकर आग्रह किया है कि जिन लोगों पर बिजली का बकाया है। उन लोगों को प्रमाण पत्र जारी करने के दौरान अंतिम बिजली बिल भुगतान की रसीद लगाना अनिवार्य करें, ताकि राजस्व में वृद्धि हो सके।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!