लेखपालों का धरना प्रदर्शन चौथे दिन भी रहा जारी

शनिवार 28 सितम्बर 2019

रमेश यादव (संवाददाता)

दुद्धी। कन्नौज में अधिवक्ताओं द्वारा महिला लेखपाल के साथ मारपीट के विरोध में शुक्रवार को तहसील परिसर स्थित श्री राम लीला मंच पर हड़ताल पर बैठ गए जिससे राजस्व विभाग के काम को लेकर आए लोगों को काफी कठिनाइयों का सामना करना पड़ा।लेखपाल संघ हड़ताल पर जाने के साथ कन्नौज के डी एम को तत्काल हटाने की मांग करते हुए जमकर भड़ास निकाली। उत्तर प्रदेश लेखपाल संघ के अध्यक्ष राघवेन्द्र ने बताया क़ि छिबरामऊ कन्नौज में प्रमाण पत्र पर जबरन रिपोर्ट लगवाने के लिए महिला लेखपाल पर दबाव बनाते हुए अधिवक्ता द्वारा दुर्व्यवहार किया गया। इसके बाद काफी संख्या में अधिवक्ता आ गए और मारपीट करते हुए चार-पांच घंटे तक लेखपाल को बंधक बनाए रखा गया।जो निन्दनीय है। उन्होंने कहा है कि प्रदेश नेतृत्व की आह्वान पर लेखपाल हड़ताल पर रहेंगे।

इसके बाद आगे की रणनीति तय करेंगे। संघ ने दोषी अधिवक्ताओं की गिरफ्तारी, घटना में शामिल अधिवक्ताओं का लाइसेंस निरस्त करने, इच्छुक लेखपालों को शस्त्र लाइसेंस देने, कन्नौज में लेखपालों के खिलाफ दर्ज की गई फर्जी एफआईआर निरस्त करने, डीएम कन्नौज को तुरंत हटाने की मांग की है। इस दौरान जिला कार्यकारिणी के संजय सिंह, अमित शुक्ला और दुर्गेश पाण्डेय तथा तहसील कार्यकारिणी के श्री राम,सन्तोष यादव,रामप्रकाश चौहान, राजकुमार मिश्रा, अनिल गुप्ता, अरुण कन्नौजिया , अनीता गुप्ता, अंजना, रेशमा, सरिता,रूबी,सावित्री,अनीता जायसवाल,मनोज सिंह,विमलेश श्रीवास्तव,
धीरज, कुंदन कुमार सहित काफी संख्या में लेखपाल मौजूद रहे।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!